सरकारी गौशाला ही बनी ‘मौत का कुआं’, अब तक हो चुकी हैं सैकड़ो गायों की मृत्यु

275

उदयपुर :  “राजस्थान” के ‘उदयपुर’ में सरकारी ‘गोशाला’ में गायों के मरने की संख्या बढ़ती जा रही है। रोज़ गायों के मरने के मामले सामने आ रहे है। उदयपुर के ‘तितरडी’ क्षेत्र में ‘नगर निगम’ की सरकारी ‘गोशाला में बीते 6 महीनों में 150 गायों की मृत्यु हो चुकी है।

सरकारी गौशाला ही बनी ‘मौत का कुआं’, अब तक हो चुकी हैं सैकड़ो गायों की मृत्यु

तितरडी में लावारिस गायों को पालने के लिए नगर निगम ने गौशाला बनाई थी। करोडों की लागत से बने इस काइन हाउस में बडी संख्या में गायों का पालन चल रहा है। मगर पिछले कुछ महीनों में यहां की स्थिति बदतर होती जा रही है । हर दिन गाय की मृत्यु की खबरें आने लगी हैं।

बताया जा रहा है कि, गौशाला में देखभाल का अभाव और गायों को चारा देने की लापरवाही के चलते वो मृत्यु का शिकार हो रही हैं। यही कारण है कि, पिछले 6 महीनों में 150 से ज्यादा गाय और बछडे दम तोड चुके हैं।

हर दिन होती है 2-3 गाय की मृत्यु

“उदयपुर” ‘नगर निगम’ करोडों रूपये के बजट से इस काइन हाउस को संचालित कर रहा है। ‘काइन हाउस’ में तैनात कर्मचारियों की मानें तो हर दिन यहां 2 से 3 गाय मृत्यु के काल में समा रही हैं। बावजूद इसके प्रशासन इसकी सुध लेने को राजी नहीं है।

आजतक की टीम ने जब यहां का दौरा किया तो, अगले पेज पर जारी है..->

loading...