अमित शाह के मिशन 2019 की हुई शुरूआत! सभी मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, है ये बड़ा लक्ष्य

176

नई दिल्‍ली : देश में भाजपा ने मिशन 2019 की तैयारियों को तेज किया है और इस मिशन में राष्ट्रीय अध्यक्ष ‘अमित शाह’ ने पार्टी के नेताओं की मुख्य बैठक की जिसमें 2019 के ‘लोकसभा’ चुनाव में अकेले ही 350 सीटें से जीतने का लक्ष्य बनाया है.

अमित शाह के मिशन 2019 की हुई शुरूआत! सभी मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, है ये बड़ा लक्ष्य

सूत्रों की जानकारी के अनुसार कि, इस बैठक में मंत्रियों और नेताओं को कुछ लक्ष्य दिये गये है. भाजपा अध्यक्ष ‘अमित शाह’ ने पार्टी नेताओं को 2019 के लोकसभा चुनाव में ‘भाजपा’ को अकेले 350 से ज्यादा सीटें लाने का लक्ष्य दिया है.

नई दिल्ली में मुख्यालय में लगभग तीन घंटे चली इस ‘ब्रेन स्टोरमिंग बैठक’ में ‘अमित शाह’ समेत 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के विषय में सभी नेताओं ने ओनी-अपनी बात रखी. इसमें उन 150 सीटों को लेकर लक्ष्य करने पर जोर दिया गया जहां भाजपा को वर्ष 2014 के ‘लोकसभा’ चुनाव में हार का सामना पड़ा था.

अमित शाह ने मुख्य बैठक में पार्टी नेताओं से इन सीटों पर ज्यादा जोर लगाने के लिए कहा है. बैठक में कुल 31 नेता मौजूद थे. केंद्रीय मंत्रियों को ‘भाजपा’ अध्यक्ष ने उन 150 में से कुछ सीटों को चुनकर उस पर मेहनत करने को कहा है.

अमित शाह के मिशन 2019 की हुई शुरूआत! सभी मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, है ये बड़ा लक्ष्य

इस बैठक में मौजूद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, जे पी नड्डा, अनंत कुमार, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान, निर्मला सीतारमण, मनोज सिन्हा, प्रकाश जावड़ेकर, अर्जुन मेघवाल समेत पार्टी महामंत्री राम लाल सहित ‘भूपेन्द्र यादव’ भी उपस्थित थे. इनके अलावा कुछ राज्यों से भी पार्टी के प्रतिनिधियों ने इस बैठक में शिरकत की.

तटीय राज्यों में 117 सीटों का टारगेट

भाजपा अध्यक्ष 2019 में लोकसभा की 360 सीटें जीतना चाहते हैं. यह आंकड़ा पिछले ‘लोकसभा’ चुनाव से 78 सीट ज्यादा है. इसकी रणनीति पर बीते एक वर्ष से कार्य चल रहा है. सीटें बढ़ाने के लिए सबसे आसान संभावनाओं वाले ‘ओडिशा’ में भाजपा कार्यकारिणी आयोजित की गई.

इसके बाद कार्यसमिति की बैठक भी किसी तटीय राज्य में करने की तैयारी जुटे हुए है. संभवत: ‘आंध्रप्रदेश’ में आयोजित हो. ‘अमित शाह’ ने तटीय राज्यों से 117 से 119 सीटें जीतने का लक्ष्य बनाया है. इसके अनुसार एक वर्ष से इन राज्यों में गतिविधियां दो सौ प्रतिशत तक बढ़ चुकी हैं.

अमित शाह के मिशन 2019 की हुई शुरूआत! सभी मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, है ये बड़ा लक्ष्य

भाजपा अध्यक्ष ने ‘महाराष्ट्र’ और ‘कर्नाटक’ को तटीय राज्यों की सूची से अलग रखा है. तमिलनाडु-पुड्‌डुचेरी की 40, केरल की 20, पश्चिम बंगाल की 42 और ओडिशा की 21 सीटें ही उनके लक्ष्य में शामिल हैं. इन सीटों का जोड़ 123 है. इन राज्यों से 117-119 सीट जीतने का लक्ष्य है. ओडिशा में ‘धर्मेंद्र प्रधान’ को जिम्मेदारी दी गई है.

अरुण सिंह और जोएल ओराम दोनों ही प्रधान के साथ रहेंगे. उधर, ‘पश्चिम बंगाल’ में कैलाश विजयवर्गीय, रूपा गांगुली, हेमंत विश्वसरमा को जिम्मेदारी दी गई है. ‘केरल’ में एम राव, एस गुरुमूर्ति, राजगोपाल को जिम्मेदारी सौंपी गई है. ‘तमिलनाडु’ में सीटी रवि, एस गुरुमूर्ति और एम राव को जिम्मेदारी सौंपी है. यहां राजनीतिक हलचल की जाँच के लिए मुख्य कक्ष बनाये गये हैं.

जिस प्रकार हमने आपको बताया है कि, भाजपा ने मिशन 2019 की तैयारियों को तेजी से बढ़ा दिया है और इस मिशन में राष्ट्रीय अध्यक्ष ‘अमित शाह’ ने पार्टी के नेताओं के साथ मुख्य बैठक भी की. इस बैठक में 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में अकेले 350 सीटें लाने का लक्ष्य रखा गया है.

अमित शाह के मिशन 2019 की हुई शुरूआत! सभी मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, है ये बड़ा लक्ष्य

जानकारी के मुताबिक बताया गया कि, इस बैठक में मंत्रियों और नेताओं को कुछ मुख्य लक्ष्य दिये है. भाजपा अध्यक्ष ‘अमित शाह’ ने पार्टी के नेताओं को 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को अकेले 350 से ज्यादा सीटें लाने का लक्ष्य दिया है.

मुख्यालय में सभी नेताओं के बीच तीन घंटे चली इस ‘ब्रेन स्टोरमिंग बैठक’ में ‘अमित शाह’ समेत 2019 में होने वाले ‘लोकसभा’ चुनाव के तथ्यों में सभी नेतोओं ने भी अपनी बात रखी. इस 150 सीटों को लेकर विशेष जोर दिया गया. जिसमे भाजपा को वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में हार का मुँह देखना पड़ा था.

अमित शाह के मिशन 2019 की हुई शुरूआत! सभी मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, है ये बड़ा लक्ष्य

इस बैठक में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, जे पी नड्डा, अनंत कुमार, पीयूष गोयल, मनोज सिन्हा, प्रकाश जावड़ेकर, अर्जुन मेघवाल समेत पार्टी महामंत्री राम लाल के अलावा भूपेन्द्र यादव भी उपस्थित थे. इनके समेत कुछ राज्यों से भी पार्टी के प्रतिनिधियों ने इस बैठक में आये.

अमित शाह 2019 में लोकसभा चुनाव को 360 सीटों से जीतना चाहते हैं. यह आंकड़ा पिछले लोकसभा चुनाव से 78 सीट ज्यादा है. बनाई हुई रणनीति पर एक वर्ष से काम चल रहा है. सीटों में बढ़ोतरी करने के लिए ‘ओडिशा’ में भाजपा द्वारा कार्यकारिणी आयोजित की गई.

अमित शाह के मिशन 2019 की हुई शुरूआत! सभी मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, है ये बड़ा लक्ष्य

अब लक्ष्य यह है कि कार्यसमिति की बैठक भी तटीय इलाके में हो. संभवत: ‘आंध्रप्रदेश’ में आयोजित हो. शाह ने तटीय राज्यों में 117 से 119 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. इसके तहत सालभर से इन राज्यों में गतिविधियां दो सौ प्रतिशत तक बढ़ चुकी हैं.

loading...