त्रिपुरा के राज्यपाल का सेक्युलरों पर करारा प्रहार! पटाखों बैन करने को लेकर अजान पर दे डाला ये बयान

224

2017, 18 अक्टूबर : अभी कुछ दिनों पहले उच्चतम न्यायालय ने दिवाली के मौके पर पटाखे बैन कर दिए हैं. जिसके बाद ‘त्रिपुरा’ के गवर्नर ‘तथागत रॉय’ ने पटाखों से होने वाले शोर की मस्जिद में होने वाली अजान की आवाज़ की तुलना करके एक नया विवाद खड़ा कर दिया है.

त्रिपुरा के राज्यपाल का सेक्युलरों पर करारा प्रहार! पटाखों बैन करने को लेकर अजान पर दे डाला ये बयान
तथागत रॉय

सूत्रों की जानकारी के मुताबिक, तथागत रॉय ने ‘दिवाली’ को लेकर इस बात पर विवाद होने लगता है कि, पटाखों से वायु प्रदूषण होता है जबकि वे तो साल में कुछ ही दिन फोड़े जाते हैं. तथागत रॉय ने बताया है कि, हर रोज़ सुबह 4.30 बजे ‘लाउडस्पीकर’ से होने वाली अजान को लेकर इस तरह की कोई भी बहस नहीं होती है.

त्रिपुरा के राज्यपाल का सेक्युलरों पर करारा प्रहार! पटाखों बैन करने को लेकर अजान पर दे डाला ये बयान
मस्जिद लाउडस्पीकर

इससे पहले तथागत रॉय ने ट्वीट कर मस्जिद में होने वाली अजान पर सीधा निशाना साधा है. उनके द्वारा किये गये इस ट्विट पर लोगों के मिले-जुले जवाब मिल रहे है.रॉय ने आगे लिखते हुए बताया है कि, अजान पर सेक्यूलर लोगों का न बोलना उनको उलझन में डालता है.साथ ही रॉय ने यह भी लिखा है कि, ‘कुरान’ या फिर ‘हदीस’ में लाउडस्पीकर का कोई जिक्र नहीं है।

त्रिपुरा के राज्यपाल का सेक्युलरों पर करारा प्रहार! पटाखों बैन करने को लेकर अजान पर दे डाला ये बयान
कुरान

“तथागत रॉय” द्वारा दिया गया यह बयान ऐसे समय में प्रकाश में आया है, जब उच्चतम न्यायालय ने ‘दिल्ली’ समेत नजदीक के सभी स्थानों पर इलाके में पटाखे बेचने पर बैन लगा दिया है. ‘उच्चतम न्यायालय’ के इस आदेश के बाद ‘पश्चिम बंगाल’ सरकार ने पटाखे फोड़ने का समय 10-6 निर्धारित किया है. तथागत रॉय ने इस दोनों ही निर्णयों का कड़ा विरोध जाहिर किया है.

त्रिपुरा के राज्यपाल का सेक्युलरों पर करारा प्रहार! पटाखों बैन करने को लेकर अजान पर दे डाला ये बयान
उच्चतम न्यायालय

इससे पहले ‘तथागत रॉय’ इस तरह के बयानों को लेकर पहले भी विवादों में आ चुके हैं. गवर्नर रॉय ने भारत में रह रहे ‘रोहिंग्या मुसलमानों’ के लिए लिखा था कि, बांग्लादेश सहित कोई भी मुस्लिम देश रोहिंग्याओं को स्वीकार नहीं कर रहा है, परंतु भारत जोकि एक महान धर्मशाला है वह अवश्य ऐसा करेगी वर्ना उसको अमानवीय बताया जाएगा.

loading...