सातवें अजूबे ताजमहल के गुंबद से टूटकर गिरा ये पत्थर

241

हाल ही में ये वारदात सामने आई है की दुनिया के 7 अजूबों में शामिल और विश्व विरासत स्मारक ‘ताजमहल’ के पत्थर दरक रहे हैं। मुख्य गुंबद का हाल सबसे बुरा है। लम्बे समय से संरक्षण कार्य न होने के कारण यहां की छतों की रौनक भी खत्म होती जा रही है।

सातवें अजूबे ताजमहल के गुंबद से टूटकर गिरा ये पत्थर

जानकारी मुताबिक पत्थरों के गिरने के कारण ताज देखने के लिए दुनिया भर से आने वाले सैलानी भी सुरक्षित नहीं रह गए हैं। ताजमहल में सैलानियों को परेशानी से बचाने के लिए भले ही पुरातत्व विभाग ने नई व्यवस्था को लागू कर दिया हो लेकिन तैयारी आधी-अधूरी होने के कारण ताजमहल देखने आने वाले सैलानियों के सिर पर खतरा मंडराने लगा है।

मुख्य गुंबद में प्रवेश करने वाले हिस्से में कई जगह पत्थर टूट गए हैं। कुछ गिरने के कगार पर हैं। यहां की दीवारों पर की गई मुगलिया पच्चीकारी भी टूट गई है। इनको नए सिरे से ठीक करने के लिए विभाग द्वारा संरक्षण कार्य नहीं करवाया गया।

बाहर से देखने में भले ही मुख्य गुंबद आकर्षक लगता हो लेकिन अंदर के हाल काफी खराब हैं। इन टूटे पत्थरों के कारण दुनिया भर में बदनामी हो रही है।

100 अरब रुपए, अगले पेज पर जारी है….->

Loading...