भूटान फेस्टिवल : IGNCA में आयोजित ‘भूटान सप्ताह’ का हुआ भव्य समापन, इन चीजों ने किया लोगों को आकर्षित

149

नई दिल्ली : पाकिस्तान को सर्जिकल स्ट्राइक के रूप में मुँहतोड़ जवाब देने वाला भारत ने भूटान के साथ अपने मैत्रेयी पूर्ण संबंध के 50 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय कला केंद्र “भूटान सप्ताह” मनाया। जो कि 23 से 30 सितंबर तक चला। इस कार्यक्रम का उद्घाटन उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू द्वारा किया गया। 

भूटान फेस्टिवल :  IGNCA में आयोजित 'भूटान सप्ताह' का हुआ भव्य समापन, इन चीजों ने किया लोगों को आकर्षित

भारत हमेशा से ऐसा देश रहा है जो स्वाभिमान की रक्षा में शस्त्र भी उठा सकता है तो वहीं अपने प्रेम को व्यक्त करते हुए “भूटान सप्ताह” भी मनाया। भूटान एक खूबसूरत राष्ट्र है। यह ऐसा देश है जो विश्व में विकसित देश की ख्याति पाने के लिए पूंजिवाद की अंधी दौड़ में शरीक नहीँ होता।

भूटान फेस्टिवल :  IGNCA में आयोजित 'भूटान सप्ताह' का हुआ भव्य समापन, इन चीजों ने किया लोगों को आकर्षित

राजधानी दिल्ली स्थित इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय कला केंद्र में प्रवेश करने पर आपको एक छोटे भूटान की झलक मिलेगी। इस 7 दिवसीय प्रदर्शनी में भूटान की संस्कृति को बहुत ही बारीक़ी से उभारा गया है । यहाँ भूटान की लोक संस्कृति पर प्रस्तुति व भूटानी फ़िल्मों के प्रदर्शन के अलावा स्वादिष्ट खाना मुख्य आकर्षण के केंद्र रहे। साथ ही भूटान की हर्बल दवाइयाँ भी यहाँ उपलब्ध थीं। इस कार्यक्रम में भूटानियों का अद्भुत हुनर देखने को मिला। 

यह भी पढ़ें : भूटान सप्ताह : भारत और भूटान के राजनयिक संबंधों के 50 वर्ष पूरे होने पर IGNCA में लगा भूटान की संकृति का मेला

टाइगर नेस्ट मठ का शानदार मॉडल बना आकर्षण का केंद्र

टाइगर नेस्ट मठ आज पूरी दुनिया में भूटान की पहचान है। यह भूटान के सबसे पवित्र बौद्ध मठों में से एक है। इस बौद्ध मठ को तक्तसांग मठ ( Taktsang Monastery) भी कहा जाता है। इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय कला केंद्र में टाइगर नेस्ट मठ का हुबहू दिखने वाला एक शानदार मॉडल आकर्षण का केंद्र रहा, यही कारण है कि हर एक व्यक्ति ने इसको अपने कैमरे में कैद किया। इसकी सुन्दरता को देखते हुए उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और भूटान की राजमाता दोरजी वांगमो वांगचुक ने भी इस मठ के साथ अपनी तस्वीर ली।  

भूटान फेस्टिवल :  IGNCA में आयोजित 'भूटान सप्ताह' का हुआ भव्य समापन, इन चीजों ने किया लोगों को आकर्षित

इसके अलावा यहाँ भारत भूटान संबंध को ध्यान में रख कर चित्र प्रदर्शिनी का भी आयोजन किया गया। विभिन्न संस्कृतियों को जानने के इच्छुक लोगों ने भूटान की प्रत्येक वस्तु का जमकर लुत्फ उठाया। यहाँ भूटानी रसोई से लेकर प्रत्येक वस्तु का खूबसूरती से प्रदर्शन किया गया।

इस कार्यक्रम का उद्घाटन उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू द्वारा किया गया। 

इस कार्यक्रम को हम भारत का अपने पडोसी देशों के प्रति प्रेम को व्यक्त करने व भारतीयों को भूटान संस्कृति से अवगत कराने की दिशा में किया एक सार्थक प्रयास मान सकते हैं।

इस कार्यक्रम का उद्घाटन उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू द्वारा किया गया। 

इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय कला केंद्र में आयोजित “भूटान सप्ताह” कार्यक्रम में प्रत्येक दिन एक अलग विषय पर प्रदर्शन होता हुआ। जिसमें लोक सांस्कृतिक प्रस्तुति एवं फिल्म प्रदर्शन विशेष आकर्षण का केंद्र रहे। 30 सितम्बर को इस शानदार कार्यक्रम का भव्य समापन हुआ। 

Loading...