चीन का मुस्लिमों पर हल्ला बोल! एक शिकायत के बाद सभी मस्जिदों से उखाड़ फेंके हजारों…

167

बीजिंग : “चीन” के ‘हुओलोंग’ अभी सुबह को लोगों के माध्यम से मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकर को लेकर चीनी सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. मस्जिदों में लाउडस्पीकर पर दिए जाने वाले अजान से होने वाले ध्वनीप्रदषूण की शिकायतआने के बाद 300 से ज्यादा मस्जिदों से 1000 से ज्यादा भोंपू निकाल दिए हैं.

चीन का मुस्लिमों पर हल्ला बोल! एक शिकायत के बाद सभी मस्जिदों से उखाड़ फेंके हजारों...

“चीन” में रह रहे स्थानिक नागरिकों ने इसकी शिकायत की थी कि, अजान के भोपू की आवाज़ के कारण उन्हें जल्दी उठना पडता है तथा कुछ प्रकरणो में ह्रदय की बीमारियां होने वाले मरीजों की स्थिती बहुत ही गंभीर हो रही है. जिसके कारण प्रशासन ने यह निर्णय लिया है.

चीन में अजान के लिए लगे हुए लाउडस्पीकर निकालने से वहां के लोगों की परेशानी में कमी आई है. ‘चीन’ में ‘मुस्लिम’ विरोधी भावनाएं बढ रही है और चीन शासन मुसलमानों पर कडी कारवार्इ भी कर रहा है. चीन मे अब 18 वर्ष से कम आयु के लोगों को ‘मस्जिद’ में जाने की अनुमती नही है. बुरका एवं ‘इस्लामिक’ दिखने वाली दाढी रखने को लेकर भी प्रतिबंध लगाया है.

चीन का मुस्लिमों पर हल्ला बोल! एक शिकायत के बाद सभी मस्जिदों से उखाड़ फेंके हजारों...

“चीन” के पश्चिमी शहर ‘काशगर’ में अब से मुस्लिमों को ‘मस्जिद’ में नमाज पढ़ने के लिए जाने से पहले मैटल डिटैक्टर के सामने से होकर जाना होगा. ‘शिनजियांग’ प्रांत की उइगर ‘मुस्लिम’ आबादी पर चीन की कम्युनिस्ट सरकार की और से लागू नई व्यवस्था है. इससे पहले भी ‘मुस्लिम’ बहुल प्रांत में दाढ़ी रखने और खुले में नमाज पढ़ने को लेकर रोक लगा रखी है.

सालों पहले की बात है जब ‘काशगर’ की ‘सैंट्रल मस्जिद’ के बाहर का चौक भी नमाज़ पढने वालों से भरा होता था. ‘ईद’ के दौरान मुस्लिम इक्कठा होकर यहां नमाज पढ़ा करते थे, परंतु अब यहाँ की स्थिति बदल चुकी है.

चीन का मुस्लिमों पर हल्ला बोल! एक शिकायत के बाद सभी मस्जिदों से उखाड़ फेंके हजारों...

अभी हल ही की बात जब ‘ईद’ के मौके पर हॉल के बाहर कोई भी व्यक्ति दिखाई नहीं दिया. ‘मस्जिद’ में नमाज के लिए दशकों पश्चात् सबसे कम भीड़ आई है. जानकारी के अनुसार, प्रशासन की तरफ से ‘मस्जिद’ आने वाले रास्ते पर कई जगह चेक प्वाइंट बना दिए गए थे.

नमाज़ के लिए आने वाले सभी लोगों की रोककर तलाशी ली जा रही थी और बहुत सवाल भी किये जा रहे थे. साथ ही उन लोगों के वाहन भी खड़े कराए जा रहे थे. इस निर्णय के लागू होने के बाद परेशान होकर ‘मस्जिद’ में न आना ही बेहतर समझा. इस विषय में जब ‘काशगर’ के प्रशासन से बातचीत हुई तो किसी अधिकारी ने कुछ नहीं कहा.

चीन का मुस्लिमों पर हल्ला बोल! एक शिकायत के बाद सभी मस्जिदों से उखाड़ फेंके हजारों...

शहर के एक व्यापारी ने जानकारी दी है कि, यह शहर अब धार्मिक कार्यों के लिए ठीक नहीं है. ‘चीन’ सरकार ने कहा है कि, ऐसे कड़े इंतजाम ‘इस्लामी’ कट्टरपन को रोकने और ‘अलगाववाद’ को न बढ़ने के लिए किए जा रहे हैं.

सूत्रों की जानकारी के मुताबिक आपको बता दे कि, ‘उइगर बहुल शिनजियांग प्रांत’ अब खुली जेल की भांति हो चुका है. इस जगह पर व्यक्ति रहते घरों में हैं और खुले आसमान के नीचे सांस लेते हैं परंतु उन्हें हर कार्य ‘पुलिस’ और ‘सुरक्षा बलों’ की बंदिशों में रहकर करना पड़ता है.

चीन का मुस्लिमों पर हल्ला बोल! एक शिकायत के बाद सभी मस्जिदों से उखाड़ फेंके हजारों...

“ऑस्ट्रेलिया” की ‘ला ट्रोब यूनिवर्सिटी’ के चीन मुद्दों के विशेषज्ञ ‘जेम्स लीबोल्ड’ की जानकारी के अनुसार, ‘चीन’ अप्रत्याशित तरीके से ‘शिनजियांग’ में पुलिस राज को बढ़ा रहा है. ‘चीन’ सरकार ने ‘प्रांत’ में कड़ाई की शुरुआत वर्ष 2009 में ‘उरुमकी’ शहर में हुए हमलो के पश्चात् की जिसमें 200 लोग मारे गए थे.

Loading...