बिहार में एक और परीक्षा घोटाला : बिना लिखे पास हो गए बीसीए के ३० छात्र !

140
मुजफ्फरपुर : बिहार में एक और परीक्षा घोटाला सामने आया है । इस बार बीसीए द्वितीय वर्ष के परीक्षा में उत्तर पत्रिका में कुछ भी नहीं लिखने वाले कई छात्रों को पास कर दिया गया । प्रकरण भीमराव अंबेडकर बिहार महाविद्यालय का है, जिसका मुख्यालय उत्तरी बिहार के मुजफ्फरपुर में है । हाल ही में बिहार सरकार को बोर्ड परीक्षा में टॉपर्स घोटाले के मामले में शर्मिंदगी उठानी पडी थी ।

 

bhimrao_ambedkar_college-2
बिना लिखे पास हो गए बीसीए के ३० छात्र

जब इस परीक्षा घोटाले पर विवाद बढा तो महाविद्यालय प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दिए और परीक्षा कराने वालों के विरुध्द कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया । इसकी पुष्टि करते हुए परीक्षा नियंत्रक सतीश कुमार राय ने कहा कि, अनियमितता के इस बडे मामले में जिम्मेदार लोगों के विरुध्द कदम उठाए गए हैं ।

बता दे कि, २०१३-१६ सत्र के बीसीए द्वितीय वर्ष के कुछ छात्रों ने अपने अंक बढवाने के लिए अपनी उत्तर पत्रिका के पुनर्मूल्यांकन का आवेदन दिया था । जब सबकी उत्तर पत्रिकाएं मंगाई गईं तो पाया कि, ३० उत्तर पत्रिकाओं में एक शब्द भी नहीं लिखा गया था, जब की उन पर पासिंग अंक दिए गए थे । ये उत्तर पत्रिकाएं पूर्वी चंपारण जिले के एलएनडी महाविद्यालय की थीं ।

भीमराव अंबेडकर बिहार महाविद्यालय में यह पहला प्रकरण नहीं है । इसी तरह का एक और प्रकरण बीते वर्ष भी सामने आया था । इसी तरह के होमियोपैथी के अंतिम वर्ष की परीक्षा में भी ४० खाली उत्तर पत्रिका में अंक दिए गए थे ।

 

loading...