बहुत ही शर्मनाक! नवरात्रि पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफसर ने माँ दुर्गा का किया अपमान, कहा- सेक्सी वे#या है दुर्गा

284

23 सितंबर, 2017 – नवरात्र हिन्दुओं का ऐसा पर्व है जिसमें मां दुर्गा की पूजा की जाती है. नवरात्र में मां दुर्गा के अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है.लेकिन कुछ ऐसे पापी हैं जो हिन्दुओं के देवी-देवताओं का अपमान करने पर तुले हुए हैं.

बहुत ही शर्मनाक! नवरात्रि पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफसर ने माँ दुर्गा का किया अपमान, कहा- सेक्सी वे#या है दुर्गा

इन नौ दिनों में माता का भक्त अपने-अपने तरीके से माता की आराधना करता है लेकिन उद्देश्य केवल एक होता है माता की कृपा प्राप्त करना. नवरात्र के नौ दिनों में जो भी भक्त मां की आराधना सच्चे दिल से करता है उसे मनचाहा वरदान प्राप्त होता है. जो भक्त मां की सच्चे दिल से पूजा अराधना करते हैं मां उन्हें सुख-समृधि का वरदान देती हैं.

नवरात्री के इस पावन पर्व पर एक ऐसा शर्मनाक बयान सामने आया है जिसने मां दुर्गा और हिंदुत्व का अपमान हुआ है. आएये हम हम आपको बताते हैं उस शख्स के बारे में जिसने माँ दुर्गा पर अभद्र टिपण्णी की है.

बहुत ही शर्मनाक! नवरात्रि पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफसर ने माँ दुर्गा का किया अपमान, कहा- सेक्सी वे#या है दुर्गा

आप ऊपर जिस शख्स की तस्वीर देख रहे है इसका नाम है केदार कुमार मंडल. ये कथित अम्बेडकरवादी है. आएये हम आपको हम आपको इसका पूरा फेसबुक प्रोफाइल दिखाते है.

ये शख्स दिल्ली यूनिवर्सिटी के दयाल सिंह कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर है. अब देखिये इस अम्बेडकरवादी की करतूत.
ये शख्स असली पोस्ट डिलीट कर सकता है इसलिए हमने पहले ही इसका स्क्रीनशॉट ले लिया है.

बहुत ही शर्मनाक! नवरात्रि पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफसर ने माँ दुर्गा का किया अपमान, कहा- सेक्सी वे#या है दुर्गा

नवरात्रि में हिंदू माँ दुर्गा की पूजा करते हैं लेकिन इसने नवरात्रि में हिन्दुओ के धर्म को अपमानित करते हुए इसने माँ दुर्गा पर इतनी भद्दी टिपण्णी करी है जो शब्द हम लिख भी नहीं सकते. हिन्दुओ के खिलाफ लिखना इन वामपंथियों का जैसे शौख है, क्यूंकि हिन्दू आवाज नहीं उठाते और जब हिन्दू आवाज ही नहीं उठएगा तो इन वामपंथियों के खिलाफ कार्यवाही भी नहीं होगी. और इसी तरह ये हिन्दुओ का अपमान करते है.

आए दिन देश में हिन्दुओं और हिन्दुओं के देवी-देवताओं का अपमान किया जा रहा है. हिंदू समाज को ऐसे वामपंथियों के खिलाफ कड़ा एक्शन लेने की जरुरत है.

Loading...