बड़ा फैसला! भारत और यूरोपीय यूनियन मिलकर करेंगे इन खूंखार आतंकियों का सफाया

232

नई दिल्ली : “भारत” और ‘यूरोपीय यूनियन” की मीडिया से साझा की गयी बातचीत के दौरान आतंकवाद को लेकर मुद्दा जोर-शोर से उठाया गया. उनके इस बातचीत से ‘आतंकवादी’ सदमे में आ गये हैं. इस बातचीत में उन्होंने ऐसा कुछ बताया जिससे बड़े-बड़े आतंकी परेशान हो गये हैं. साथ ही यह भी कहा है है कि, अब इन लोगों की ख़ैर नहीं.

 बड़ा फैसला! भारत और यूरोपीय यूनियन मिलकर करेंगे इन खूंखार आतंकियों का सफाया
नरेंद्र मोदी और ‘जीन क्लॉड जंकर

इस वार्ता में पहली बार इस्लामिक आतंकी ‘हाफिज सईद’, ‘जकीउर रहमान लखवी’ और ‘दाऊद इब्राहिम’ जैसे खूंखार आतंकियों को लेकर चर्चा की गयी है. आतंकी सईद और लखवी वर्ष 2008 में मुंबई धमाकों के आरोपी हैं, जबकि दाऊद वर्ष 1993 के ‘मुंबई धमाके’ का सबसे बड़ा अपराधी ठहराया जा चुका है.

 बड़ा फैसला! भारत और यूरोपीय यूनियन मिलकर करेंगे इन खूंखार आतंकियों का सफाया
जकीउर रहमान, दाऊद इब्राहिम, हाफिद सईद,

पीएम ‘नरेंद्र मोदी’, यूरोपीय काउंसिल के अध्यक्ष ‘डोनाल्ड टस्क’ और यूरोपीय कमीशन के अध्यक्ष ‘जीन क्लॉड जंकर’ ने मिलकर इस 14वीं यूरोपीय यूनियन समिट में इन खूंखार आतंकियों को लेकर के बीच बात हुई. संयुक्त बयान में बताया गया है कि, हम सभी लोग इस बात को लेकर सहमत हुए हैं कि वैश्विक आतंकियों और उनके संगठनों के विरोध में मिलकर लड़ाई शुरू करने वाले हैं. जिन लोगों में हाफिद सईद, जकीउर रहमान, दाऊद इब्राहिम, लश्कर ए तैयबा, जैश ए मोहम्मद, हिजबुल मुजाहिदीन, हक्कानी नेटवर्क, अलकायदा  और आईएसआईएस  का नाम शामिल है.

 बड़ा फैसला! भारत और यूरोपीय यूनियन मिलकर करेंगे इन खूंखार आतंकियों का सफाया
आईएसआईएस

सूत्रों की जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि, 2016 में 13वीं समिट में केवल आतंकी संगठनों को लेकर बात की गयी थी, किसी आतंकी का नाम शामिल नहीं किया गया था. भारत और यूरोपीय यूनियन की साझा बातचीत के दौरान पीएम ‘नरेंद्र मोदी’ ने बताया है कि, अब इन दोनों देशों के बीच बहुआयामी संबंध और रणनीतिक साझेदारी हमारी प्राथमिकता है.

 बड़ा फैसला! भारत और यूरोपीय यूनियन मिलकर करेंगे इन खूंखार आतंकियों का सफाया
नरेंद्र मोदी

बीते वर्ष ‘ब्रसेल्स’ में शिखर सम्मेलन के पश्चात् हमारे संबंध शक्तिशाली हो चुके हैं. पीएम मोदी ने बताया है कि, अब हम इस आतंकवाद को खत्म करने के लिए तैयार हो गये हैं. वहीं ‘यूरोपीय काउंसिल’ के अध्यक्ष ‘डोनाल्ड टस्क’ ने बताया है कि, हम गतिशील व्यापार, वैश्विक और क्षेत्रीय मामलो को लेकर सहयोग बढ़ाने के लिए सहमत हुए हैं.

 बड़ा फैसला! भारत और यूरोपीय यूनियन मिलकर करेंगे इन खूंखार आतंकियों का सफाया
डोनाल्ड टस्क
साथ ही ‘डोनाल्ड टस्क’ ने बताया है कि, विदेशी आतंकवादी लड़ाकों, उनकी फंडिंग और हथियारों की सप्लाई से बढ़ने वाले खतरे को चुनौती देने के लिए आतंकवाद-विरोधी समझौते का ऐलान किया है. उन्होंने म्यांमार की स्थिति पर भी चर्चा करते हुए बताया है कि, वह म्यांमार के तनाव को देखना चाहते हैं, जिससे उन लोगों की सहायता की जा सके जो इसके लिए उत्तरदायी हैं.
loading...