21 वर्ष बाद हुआ न्याय! बम धमाके के आरोपी आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को दी गयी ये भयंकर सजा

142

नई दिल्ली : आज से 21 साल पहले सोनीपत बम बलास्ट के मामले में दोषी आतंकी ‘अब्दुल करीम टुंडा’ को लेकर ‘सोनीपत न्यायालय’ ने अपना फैसला सुनाया है. न्यायालय के इस फैसले के बाद उन लोगों के परिवारवालों को चैन मिला है. जिन लोगों के परिवार से कोई न कोई इस बम धमाका में घायल हुआ था. न्यायालय ने आतंकी टुंडा को उम्रकैद की सजा सुनाई है.

21 वर्ष बाद हुआ न्याय! बम धमाके के आरोपी आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को दी गयी ये भयंकर सजा
आतंकी अब्दुल करीम टुंडा

हालाँकि, बात यह है कि, ‘सोनीपत न्यायालय’ द्वारा दी गयी इस सजा से आतंकी अब्दुल टुंडा सहमा हुआ है. इसके साथ-साथ उस पर एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है. न्यायालय ने बताया है कि, यदि आतंकी टुंडा 1 वर्ष के भीतर जुर्माने की राशि को नहीं चुका पता है तो उसकी सजा 1 वर्ष के लिए और बढ़ा दी जाएगी.

21 वर्ष बाद हुआ न्याय! बम धमाके के आरोपी आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को दी गयी ये भयंकर सजा
सोनीपत न्यायालय

सोनीपत बम धमाके पर 21 वर्ष तक लड़ाई लड़ने के बाद इस मामले में न्यायालय का निर्णय आया है. इस मामले में दोषी पाये गये आरोपी आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है. इस बम धमाके में दर्जनों मासूम लोग गंभीर तरीके से घयल हो गये थे.

21 वर्ष बाद हुआ न्याय! बम धमाके के आरोपी आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को दी गयी ये भयंकर सजा
धमाके वाला स्थान

आतंकी टुंडा को अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश ‘डॉ. सुशील कुमार गर्ग’ ने सजा सुनाई है. साल 1996 में सोनीपत शहर में हुए सिलसिलेवार दो बम धमाकों के मामले में सोनीपत न्यायालय ने आतंकी अब्दुल टुंडा को 9 अक्टूबर को धारा के तहत 307 (हत्या की कोशिश), 120बी (षड्यंत्र रचना) व 3, 4 एक्सपलोजिव एक्ट (बम ब्लास्ट करना) के आरोप में दोषी   करार दिया गया था.

21 वर्ष बाद हुआ न्याय! बम धमाके के आरोपी आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को दी गयी ये भयंकर सजा
न्यायालय का फैसला

सूत्रों के प्राप्त जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि, सोनीपत न्यायालय ने आतंकी ‘अब्दुल करीम टुंडा’ को 9 अक्टूबर को दोषी करार दिया गया था, जिसके चलते 10 अक्टूबर को आरोपी को सजा दी गयी है. वर्ष 2013 में ‘दिल्ली’ पुलिस ने आतंकी टुंडा को ‘नेपाल बॉर्डर’ से गिरफ्तार किया था.

 

loading...