रासायनिक हमले को लेकर सीरिया के समर्थन में आया रूस! हमले के लिए इस देश को ठहराया जिम्मेदार

116

सीरिया : जैसा कि हम जानते हैं कि ‘सीरिया’ के ‘घोउटा’ में रासायनिक हथियारों से हमला किया गया था. इस हमले के लिए ‘अमेरिका’ को जिम्मेदार बताया जा रहा था. साथ ही इस हमले को लेकर ‘बशर अल-असद’ सरकार की विश्व में कड़ी आलोचना की जा रही है. परंतु अब उसका समर्थन करने के लिए उसके सहयोगी ‘रूस’ ने दावा करते हुए कहा है कि वहां किसी तरह का रासायनिक हमला नहीं हुआ है.

रासायनिक हमले को लेकर सीरिया के समर्थन में आया रूस! हमले के लिए इस देश को ठहराया जिम्मेदार
रासायनिक हमला

रूसी विदेश मंत्री ‘सर्गेई लावरोव’ ने रासायनिक हमले को लेकर बयान देते हुए कहा है कि रूसी विशेषज्ञों को सीरियाई विद्रोहियों के कब्जे वाले शहर डौमा से किसी तरह के केमिकल अटैक का कोई भी सुराग नहीं मिला है. 

इसके आगे लावरोव ने कहा है कि हमारे सैन्य विशेषज्ञों ने उस जगह का दौरा किया है जहां हमला बताया जा रहा है और उन्हें असैनिकों के खिलाफ क्लोरीन या किसी अन्य रासायनिक पदार्थ का उपयोग किये जाने के किसी तरह के कोई भी सबूत नहीं मिले हैं.  

रासायनिक हमले को लेकर सीरिया के समर्थन में आया रूस! हमले के लिए इस देश को ठहराया जिम्मेदार
सर्गेई लावरोव

साथ ही लावरोव ने कहा है कि सीरिया में हुआ हमला बहुत ही गंभीर घटनाक्रम है. सीरिया में हुए हमले के लिए ‘दमिश्क’ और ‘मॉस्को’ ने इजरायल को जिम्मेदार बताया है. इसके अलावा लावरोव ने एक बैठक के दौरान बयान में कहा है कि मुझे आशा है कि कम से कम ‘अमेरिकी सेना’ और ‘अमेरिका’ के नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल देश इस हमले के बारे में कुछ समझेंगे. 

रासायनिक हमले को लेकर सीरिया के समर्थन में आया रूस! हमले के लिए इस देश को ठहराया जिम्मेदार
अमेरिकी सेना

ध्यान देने वाली बात यह है कि सोमवार (9 अप्रैल) को सीरिया के सैन्य अड्डे पर मिसाइल हमला हुआ. जाकारी के अनुसार इस हमले के लिए सीरियाई मीडिया पहले अमेरिका पर आरोप लगा रही थी, परंतु रूस और बेरुत की सेना ने दावा करते हुए कहा है कि इस हमले में ‘इजरायल’ के युद्धक विमान शामिल हैं. 

Loading...