दुश्मनों के इन शक्तिशाली हथियारों को एक ही बार में नेस्तनाबूद कर देगा भारत का ये विध्वंसक हथियार! पाक-चीन में मचा हडकंप…

972

India successfully tested ATGM to overcome enemies in the war! Pak-China crusher (राजस्थान) : इस बात को आप भलीभांति जानते हैं कि ‘पुलवामा आतंकी हमले’ के बाद से ही ‘भारत’ और ‘पाकिस्तान’ के बीच तनाव बाधा हुआ है. इसी बीच बुधवार 13 फ़रवरी की रात भारत ने युद्ध में टैंक को नष्ट करने के लिए ‘रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन’ (डीआरडीओ) द्वारा निर्माण की गई ‘मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल’ का राजस्थान के पोकऱण रेंज में सफल परीक्षण किया. इससे हथियार से ‘भारतीय थल सेना’ की क्षमता में इजाफा होगा.

दुश्मनों के इन शक्तिशाली हथियारों को ही बार में नेस्तनाबूद कर देगा भारत का ये विध्वंसक हथियार! पाक-चीन में मचा हडकंप...

सूत्रों की माने तो युद्ध के समय इस मिसाइल से दुश्मनों के टैंक को आसानी से तबाह किया जा सकता है. काफी समय से ‘भारतीय सेना’ इस प्रकार के शक्तिशाली हथियार की मांग कर रही थी. डीआरडीओ ने राजस्थान के रेगिस्तान में कल रात 2-3 किलोमीटर स्ट्राइक रेंज के साथ इस मिसाइल का परीक्षण किया.

क्या है एटीजीएम?

सूत्रों की माने तो ‘एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल’ को ‘एटीजीएम’ के नाम से जाना जाता है. जो दुश्मन के आर्मड टैंक तबाह करने का दमखम रखती है. यह मुख्यत तीन प्रकार की होती हैं. पहली मैन पोर्टेबल यानि इसे कंधे पर आसानी से कहीं भी ले जाया जा सकता है, दूसरी टैंक में माउंट मिसाइल और तीसरी हेलिकॉप्टर या लड़ाकू जहाज में ‘माउंट मिसाइल’.

यह भी पढ़े : भारत ने इन शक्तिशाली रॉकेटों का सफलतापूर्वक किया परिक्षण!

दुश्मनों के इन शक्तिशाली हथियारों को ही बार में नेस्तनाबूद कर देगा भारत का ये विध्वंसक हथियार! पाक-चीन में मचा हडकंप...

गाइडेड मिसाइल किस प्रकार करती है काम?

आपको बता दें कि एटीजीएम मिसाइल अन्य गाइडेड मिसाइल के पैटर्न की तरह जी काम करती हैं. इसके लिए मिसाइल में किसी निश्चित टॉरगेट के सही कोर्डिनेट पहले फिट किया जाता है. उसके बाद फायर किया जाता है. यह अपने निशाने को सटीक भेदने में सक्षम है.

भारत फ्रांस से खरीदेगा 5000 एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल

सूत्रों की माने तो देश की सुरक्षा को ध्यम में रखते हुए भविष्य के लिए भारत अपनी खुद की मिसाइल के तैयार होने तक फ्रांस से 5000 एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल को खरीद रहा है. इस सौदे के लिए रक्षामंत्री ‘निर्मला सीतारमण’ की अध्यक्षता में हुई रक्षा खरीद समिति की बैठक में अनुमति मिल चुकी है. मिलान एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल से भारत की रक्षा क्षमता में वृद्धि होगी.

दुश्मनों के इन शक्तिशाली हथियारों को ही बार में नेस्तनाबूद कर देगा भारत का ये विध्वंसक हथियार! पाक-चीन में मचा हडकंप...

स्पाइक सौदा रद्द होने के बाद पसंद आई फ्रांस की मिलान

आपको याद दिला दें कि पहले इजराइल की एटीजीएम मिसाइल ‘स्पाइक’ का सौदा हुआ था जो रद्द गया. जिसके बाद भारत ने फ्रांस की ‘मिलान’ को खरीदा है. साथ ही भारत अपनी खुद की मिसाइल को भी निर्माण करने में व्यस्त है. जिसका परीक्षण बुधवार 13 मार्च को राजस्थान में किया गया है.

loading...