पाकिस्तान के नापाक मंसूबो को भारतीय वायुसेना ने हवा किया नेस्तानाबूद! जिसके बाद पाकिस्तान में फैली सनसनी…

1036

Indian Air Force swept the drone of Pakistan in the air (पंजाब) : जैसा कि आप जानते हैं ‘पाकिस्तान’ आए दिन किसी न किसी तरफ की गतिविधियों को अंजाम देने की फ़िराक में रहता है. ऐसी ही एक घटना दोबारा देखने को मिली. आपको याद हो कि 1 अप्रैल की सुबह 3.30 बजे पाकिस्तान की तरफ ‘एफ-16’ विमान भारतीय सीमा में भेजे गए थे, जिनको ‘भारतीय वायुसेना’ ने खदेड़ दिया था.

पाकिस्तान के नापाक मंसूबो को भारतीय वायुसेना ने हवा किया नेस्तानाबूद! जिसके बाद पाकिस्तान में फैली सनसनी...

भारतीय वायुसेना की कार्रवाई के बावजूद पाकिस्तान ने एक बार फिर नापाक हरकत करते हुए बुधवार 3 अप्रैल की रात करीब 10.15 बजे खेमकरण सीमा से ड्रोन भेजा. लेकिन पाक के इस ड्रोन को भारतीय सीमा में रडार ने पकड़ लिया और फिर चौकसी बढ़ा दी गई. जिसके बाद ‘भारतीय वायुसेना’ ने ड्रोन को खदेड़ दिया. इस दौरान तीन धमाकों की आवाज भी सुनाई दी. इसके बाद खेमकरण सेक्टर में ब्लैकआउट कर दिया गया.

यह भी पढ़े : एलओसी पर पाकिस्तान की तरफ की जा रही गोलीबारी का भारतीय सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब!

पाकिस्तान के नापाक मंसूबो को भारतीय वायुसेना ने हवा किया नेस्तानाबूद! जिसके बाद पाकिस्तान में फैली सनसनी...

सूत्रों की माने तो खेमकरण सेक्टर के रत्तोके गांव में लगाए गए रडार के कारण पाकिस्‍तान की तरफ से आने वाले ड्रोन देखा गया. जिसके बाद इसके बाद ‘भारतीय सेना’ और ‘भारतीय वायुसेना’ तुरंत सतर्क हो गई और पाकिस्‍तानी ड्रोन को खदेड़ने की कार्रवाई शुरू की. इसके बाद ‘पाक ड्रोन’ अपनी सीमा में वापस लौट गया. ड्रोन पाकिस्तान में सुरक्षित लौटा या नहीं, इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है.

ध्यान देने वाली बात यह है कि इस घटना के कारण आसपास के गांव मैदीपुर, मस्तगढ़, राजुके, खेमकरण, गजल, तूत भंगाला, वुडबुडा आदि में करीब डेढ़ घंटे तक ब्लैकआऊट रहा. ग्रामीणों ने कहा कि उन्होंने तीन धमाकों की आवाज सुनी. इसके बाद बिजली कट गई.

पाकिस्तान के नापाक मंसूबो को भारतीय वायुसेना ने हवा किया नेस्तानाबूद! जिसके बाद पाकिस्तान में फैली सनसनी...

देर रत साढ़े 11 बजे तक पंजाब पुलिस और खुफिया एजेंसियों को गांव मैदीपुर के डिफेंस रेंज के पास ही ‘बीएसएफ’ द्वारा रोक लिया गया. घटना के दौरान मौके पर भिखीविंड के डीएसपी ‘एसएस मान’, खेमकरण के थाना प्रभारी ‘परमजीत कुमार’ भी पहुंचे, लेकिन उनको डिफेंस रेंज से आगे जाने की अनुमति नहीं दी गई.

loading...