दिल्ली की स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार किए गए जैश आतंकी फैयाज अहमद लोन ने किया ये सनसनीखेज खुलासा…

127

Jaish Terrorist Fayaz Ahmed Lone arrested by Special Cell of Delhi disclosed this sensational (नई दिल्ली) : जम्मू-कश्मीर में गिरफ्तार किए गए ‘जैश-ए-मोहम्मद’ के आतंकी ‘फैयाज अहमद लोन’ ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है. जिसके बाद देशभर में सनसनी फैल गई. सूत्रों की माने तो यह पिछले चार साल से फरार चल रहा था. 2007 में राजधानी में बड़े हमले की तैयारी के साथ वह साथियों संग दिल्ली आया था, लेकिन इससे पहले ही पुलिस ने चार आरोपियों को दबोच लिया

दिल्ली की स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार किए गए जैश आतंकी फैयाज अहमद लोन ने किया ये सनसनीखेज खुलासा...

आतंकी फैयाज ने खुलासा करते हुए कहा कि सोपोर जिला कमांडर आतंकी ‘हैदर’ के इशारे पर वह अपने साथियों के साथ दिल्ली आया था. दूसरी तरफ ‘शाहिद गफ्फूर’ ने खुलासा करते हुए कहा था कि उसने पुंछ के रास्ते 1998 और 2002 में भारत की सीमा पार की थी.

आतंकी गफ्फूर ने आगे कहा कि वह पाकिस्तान से कई आतंकियों को लेकर भारत आया था. तब वह ‘जम्मू-कश्मीर’ में ही रुका था. इसी दौरान उसने राष्ट्रीय रायफल के कैंप पर हमला भी किया. सूत्रों की माने तो साल 2007 में शाहिद गफ्फूर को उसके बाकी साथियों के साथ दिल्ली की तरफ कूच करने के लिए कहा गया था.

यह भी पढ़े : जैश-ऐ-मोहम्मद के इस खूंखार आतंकी को दिल्ली की स्पेशल सेल ने दबोचा!

इस दौरान गफ्फूर समेत ‘बशीर, मजीद और फैय्याज अहमद’ व अन्य दिल्ली आए थे. हमले की तैयारी के लिए रेकी की जा रही थी, परंतु आतंकी मंसूबो को नाकाम करते हुए स्पेशल सेल की टीम ने गफ्फूर व तीन आतंकियों को दबोच लिया था. फ़िलहाल आतंकी गफ्फूर अभी ‘तिहाड़ जेल’ में बंद है.

दिल्ली की स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार किए गए जैश आतंकी फैयाज अहमद लोन ने किया ये सनसनीखेज खुलासा...

व्यवसाय में नुकसान होने के कारण आतंकी बना था फैयाज

इसके आगे आतंकी फैयाज अहमद लों ने कहा कि उसको व्यवसाय में घाटा होने के कारण साल 2005 में ‘जैश-ए-मोहम्मद’ से जुड़ गया था. कुपवाड़ा के मराहामा गांव का रहने वाला फैय्याज अहमद 11वीं कक्षा तक पढ़ाई की है.

व्ययसाय शुरू करने के लिए उसने वर्ष 2000 में ‘जम्मू कश्मीर बैंक’ से लोन लिया था, परंतु कारोबार में नुकसान होने के कारण उसने साल 2004 में अपने फूफा के साथ मिलकर इलाहाबाद में शॉल का व्ययसाय शुरू किया. 

सूत्रों की माने तो इस दौरान फैयाज की मुलाकात एलआईसी एजेंट व जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ‘अल्ताफ अहमद किरमानी’ से हुई. अल्ताफ ने फैय्याज को मोटी रकम दिलवाने का वादा कर जैश में शामिल कराया. 

आतंकी अल्ताफ ने ही फैयाज की मुलाकात जैश कमांडर ‘हैदर उर्फ डॉक्टर’ से कराई. इसके बाद वह जैश में शामिल होकर देश-विरोधी गतिविधियों में शामिल हो गया.

दिल्ली की स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार किए गए जैश आतंकी फैयाज अहमद लोन ने किया ये सनसनीखेज खुलासा...

सूत्रों की माने तो फैयाज जैश से जुड़ने के बाद लगातार हमलों की तैयारी करने व अन्य गतिविधियों में शामिल रहने लगा. इस दौरान वह पाकिस्तान में बैठ जैश के अन्य बड़े आतंकियों के संपर्क में भी रहा. उसके बाद साल 2007 में वह दिल्ली आया और यहां दिल्ली पुलिस के दबोच लिया था. 

loading...