जम्मू-कश्मीर : आतंकियों ने सेना के कैंप पर इस बड़ी घटना को दिया अंजाम! स्थिति गंभीर

120

Jammu and Kashmir: militants attack on army camp, attack a young martyr (श्रीनगर) : अभी-अभी ‘जम्मू-कश्मीर’ से एक दर्दनाक घटना की खबर सामने आई है. जिससे घाटी समेत देशभर में हलचल पैदा हो गई है. सूत्रों की माने तो इस बार आतंकियों ने दोबारा से ‘भारतीय सेना’ के सुरक्षाबलों पर पावर ग्रिड पर ग्रेनेड हमला किया. इस हमले में एक एएसआई शहीद हो गए हैं.

जम्मू-कश्मीर : आतंकियों ने सेना के कैंप पर इस बड़ी घटना को दिया अंजाम! स्थिति गंभीर

आतंकियों द्वारा बड़गाम जिले के ‘वगूरा ग्रिड स्टेशन’ में गोलीबारी की गई. इस गोलीबारी में ‘सीआईएसएफ’ का एक एएसआई घायल हो गया. दरअसल घटनास्थल पर मौजूद सर्तक संतरी ने हमला नाकाम कर दिया.

यह भी पढ़े – जम्मू-कश्मीरः भारतीय सेना की इस जबरदस्त कार्रवाई से आतंकियों में मची खलबली!

इस हमले में घायल हुए एएसआई राजेश कुमार को गंभीर हालत में अस्पताल में भारती कराया गया. अस्पताल में उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई. इस हमले को अंजाम देने के बाद आतंकी मौका पाकर भाग निकले. तुरंत ही सुरक्षाबलों ने क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन शुरू किया. आपको बता दें कि इस हमले में शहीद हुए जवान ‘राजेश कुमार’ राजस्थान के झुंझुनूं के रहने वाले थे.

जम्मू-कश्मीर : आतंकियों ने सेना के कैंप पर इस बड़ी घटना को दिया अंजाम! स्थिति गंभीर

सूत्रों की माने तो इससे पहले शुक्रवार २६ अक्टूबर को आतंकियों ने दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले के मैत्रीबुग में ‘भारतीय सेना’ की ’34 राष्ट्रीय राइफल्स’ के कैंप पर हमला किया. आपको बता दें कि आतंकियों ने सेना के कैंप पर अंधाधुंध गोलीबारी की. दरअसल इस हमले किसी के घायल होने की पुष्टि नही हुई है. घटना के बाद पूरे इलाके में सर्च आपरेशन चलाया गया.

शहीदों को भारतीय सेना ने दी श्रद्धांजलि

ध्यान देने वाली बात यह है कि शुक्रवार 26 अक्टूबर को ‘भारतीय सेना’ ने शहीद तीन जवानों को शुक्रवार को श्रद्धांजलि दी. इनमें मिजोरम के ‘नगमसियामलियाना’ शामिल हैं जो गुरुवार 25 अक्टूबर को पुलवामा जिले के त्राल इलाके के लूरगाम में सेना के कैंप पर आतंकी हमले में शहीद हुए थे. दूसरे ‘बृजेश कुमार’ हैं जो शुक्रवार 26 अक्टूबर को सोपोर में मुठभेड़ में शामिल थे.

जम्मू-कश्मीर : आतंकियों ने सेना के कैंप पर इस बड़ी घटना को दिया अंजाम! स्थिति गंभीर
बृजेश कुमार

वहीं तीसरे शहीद जवान अनंतनाग में पत्थरबाजी में ‘राजेंद्र सिंह की मौत हो गई. ‘बादामीबाग कैंटोंमेंट’ में आयोजित समारोह में जीओसी चिनार कोर लेफ्टिनेंट जनरल ‘एके भट’, डीजीपी ‘दिलबाग सिंह’ तथा अन्य सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारी उपस्थित थे.

loading...