लालू के काले कारनामों का पर्दाफाश करने के बाद देश की इस सबसे बड़ी कंपनी पर चला मोदी का चाबुक

99

13 जनवरी, 2018 – अकसर सुनने में आता है कि देश में बड़े नामी लोगों पर कार्रवाही नहीं की जाती. लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने ऐसा कहने वालों के मुंह बंद कर दिए हैं. 

लालू के काले कारनामों का पर्दाफाश करने के बाद देश की इस सबसे बड़ी कंपनी पर चला मोदी का चाबुक
नरेंद्र मोदी : प्रधानमंत्री

बड़े-बड़े घोटाले करने वाले लालू प्रसाद की काली कमाई का पर्दाफाश करने के बाद देश की आयकर विभाग ने कलपुर्जे बनाने वाली बड़ी कंपनी जय भारत मारुति ग्रुप (जेबीएम) के करीब पचास ठिकानों पर छापे मारे हैं. यह छापेमारी लगातार दो दिनों तक जारी रहेगी. 

छापेमारी के पहले ही दिन अलग-अलग जगहों पर छुपाकर रखे करीब 7 करोड़ रुपये और शौचालय में रखे 4 किलो से ज्यादा सोने-चांदी के आभूषण जब्त किये गए हैं. सूत्रों के अनुसार पता चला है कि नोटबंदी के समय काला धन रखने वाले बड़े-बड़े व्यापारियों ने अपने काले धन को सफ़ेद करने के लिए भारी मात्र में सोने-चांदी के आभूषणों को खरीदने में लगा दिया था. साथ ही बैंकों के साथ मिलकर चुपके से अपने काले धन को सफ़ेद कर लिया था.

लालू के काले कारनामों का पर्दाफाश करने के बाद देश की इस सबसे बड़ी कंपनी पर चला मोदी का चाबुक

लेकिन पीएम मोदी का सख्त आदेश इन कारोबारियों पर भारी पड़ गया है. जांच एजेंसियों और आयकर विभाग ने इस पर सख्ती से काम भी किया है. विभाग के मुताबिक जय भारत मारुती के गुडगाँव, फरीदाबाद और गाजियाबाद के पचास ठिकानों पर कार्रवाही की गयी है.  

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जय भारत मारुती नामक ये कंपनी वाहनों के कलपुर्जे तैयार करती है और कलपुर्जे  बनाने वाली देश की बड़ी कम्पनियों में से एक है. ये कम्पनी हैवी वाहन बनाने वाली अशोक लेलैंड आदि बड़ी कंपनियों के लिए कलपुर्जे बनाती है. इस कंपनी का विश्व स्तर पर कुल 18 जगहों पर 5 विनिर्माण संयंत्रों, 4 इंजीनियरिंग और डिजाइन केंद्रों के बुनियादी ढांचे पर अरबों डॉलर लगा हुआ है. लेकिन इसके बाद भी इसका काला कारनामा सामने आ ही गया. 

लालू के काले कारनामों का पर्दाफाश करने के बाद देश की इस सबसे बड़ी कंपनी पर चला मोदी का चाबुक

कांग्रेस के राज में खूब मोटा माल कमाया..

कांग्रेस के राज में ऐसी ही कई कंपनियों ने न जाने कितना टैक्स चोरी किया और दो नंबर का काम करके खूब काला धन जमा किया और कांग्रेस ने इनके खिलाफ कोई सख्त कदम नहीं उठाये.

कांग्रेस ने इसलिए कोई कदम नहीं उठाया क्योंकि कांग्रेस तो खुद ही इस देश को लूटने में लगी थी और अपनी तिजोरियां भर रही थी. लेकिन मोदी सरकार ने आते ही आयकर विभाग को आदेश देकर इन कम्पनियों पर नजर रखनी शुरू कर दी. इसके बाद धीरे-धीरे इन नामी कम्पनियों को बेनकाब करना शुरू कर दिया है.

 

Loading...