टेरर फंडिंग के मामले में एनआईए ने अलगाववादी आसिया अंद्राबी के खिलाफ कर डाली ये ताबड़तोड़ कार्रवाई…

25

NIA took this major action against separatist Aasia Andrabi in the case of Terror funding  (जम्मू-कश्मीर) : अभी-अभी जम्मू-कश्मीर से अलगाववादी और दुख्तरान-ए-मिल्लत प्रमुख ‘आसिया अंद्राबी’ को लेकर बड़ी खबर आई है. जिसके बाद आसिया की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं. सूत्रों की माने तो ‘राष्ट्रीय जांच एजेंसी’ (एनआईए) ने जम्मू-कश्मीर में टेरर फंडिग के मामले में गिरफ्तार आसिया अंद्राबी के घर को सील कर दिया है.

टेरर फंडिंग में मामले में अलगाववादी आसिया अंद्राबी के खिलाफ एनआईए ने कर डाली ये ताबड़तोड़ कार्रवाई...

ध्यान देने वाली बात यह है कि इस मामले में जब तक जांच पूरी न हो जाए तब तक आसिया अंद्राबी इस घर को न तो बेंच सकती है न ही इसका व्यवसायिक उपयोग कर सकती है. दरअसल इस दौरान अगर वह जेल से छूटती है तो इस घर में रहने पर कोई प्रतिबंध नहीं है.

यह भी पढ़े : एनआईए ने उत्तर प्रदेश के मदरसे में पढने वाले कश्मीरी छात्रों पर कसा शिंकंजा!

आसिया अंद्राबी ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी’ (एनआईए) की पूछताछ में कुबूल किया था कि उसने विदेशों से चंदे लिए और उनकी पार्टी ‘दुख्तरान-ए-मिल्लत’ घाटी में महिलाओं के विरोध प्रदर्शन का आयोजन करती थी.

टेरर फंडिंग में मामले में अलगाववादी आसिया अंद्राबी के खिलाफ एनआईए ने कर डाली ये ताबड़तोड़ कार्रवाई...

इसके अलावा आसिया पर कश्मीर घाटी में ‘लश्कर-ए-तैयबा’ सरगना ‘हाफिज सईद’ के कहने पर पत्थरबाजी करवाने का भी आरोप है. आपको याद दिला दें कि आसिया अंद्रिबा ‘कश्मीर यूनिवर्सिटी’ से विज्ञान में चार साल पहले पाकिस्तानी झंडा फहराने और पाकिस्तानी राष्ट्रगान गाने के कारण सुर्खियों में आई थी. 

सूत्रों की माने तो आसिया अंद्राबी के दो बेटे हैं जिनमें एक मलेशिया में तो दूसरा ऑस्ट्रेलिया में रहता है. आसिया की तरह ही ‘सैय्यद अली शाह गिलानी’ का दामाद व तहरीक ए हुर्रियत अल्ताफ ‘अहमद शाह उर्फ फंटूश’ की एक बेटी तुर्की में पत्रकार है तो दूसरी पाकिस्तान में मेडिकल की पढ़ाई कर रही है.

टेरर फंडिंग में मामले में अलगाववादी आसिया अंद्राबी के खिलाफ एनआईए ने कर डाली ये ताबड़तोड़ कार्रवाई...

इतना ही नहीं आसिया अंद्राबी का भतीजा ‘पाकिस्तान सेना’ में कैप्टन के पद पर तैनात है. जबकि उसका एक अन्य रिश्तेदार पाकिस्तान सेना और खुफिया एजेंसी ‘आईएसआई’ का करीबी है.

loading...