आतंकवाद को लेकर अमेरिका के सामने गिड़गिड़ाने पर मजबूर हुआ पाकिस्तान! कहा- अब आतंकियों पर….

596

Pakistan has been forced to apologize to the United States on terrorism (वाशिंगटन) : आतंकवाद को लेकर ‘पाकिस्तान’ के लिए ‘अमेरिका’ से बुरी खबर आई है. जिसके बाद वह अमेरिका के सामने गिड़गिड़ा पर मजबूर हो गया है. सूत्रों की माने तो पाकिस्तान ने अमेरिका को ये आश्वासन देते हुए कहा है कि वह आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करेगा और भारत के साथ तनाव को कम करने के लिए फैसले लेगा. इस बात की जानकारी अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ‘जॉन बोल्टन’ ने दी है.

आतंकवाद को लेकर अमेरिका के सामने गिड़गिड़ाने पर मजबूर हुआ पाकिस्तान! कहा- अब आतंकियों पर....
जॉन बोल्टन

उन्होंने पाक के विदेश मंत्री ‘शाह महमूद कुरैशी’ से बात की है. इस दौरान पाक की तरफ से आतंकियों से निपटने का आश्वासन दिया है. इस बात की जानकारी बॉल्टन ने ट्वीट कर दी है.

अमेरिकी सलाहकार बोल्टन ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि “जैश-ए-मोहम्मद और अन्य आतंकी संगठनों के खिलाफ सार्थक कदम उठाने के लिए पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से बात की. उन्होंने मुझे आश्वासन दिया कि पाकिस्तान आतंकियों से सख्ती से निपटेगा और भारत के साथ तनाव को कम करने के लिए कदम बढ़ाना जारी रखेगा.”

उन्होंने यह बात ऐसे समय में की है. जब जब भारत के विदेश सचिव ‘विजय गोखले’ अमेरिका के तीन दिवसीय दौरे पर हैं. गोखले ने अपने दौरे के पहले दिन अमेरिका के विदेश मंत्री ‘माइक पोम्पियो’ से मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद जारी बयान में कहा गया है कि अमेरिका पाकिस्तान पर आतंकवाद को लेकर लगातार दबाव बनाता रहेगा.

आतंकवाद को लेकर अमेरिका के सामने गिड़गिड़ाने पर मजबूर हुआ पाकिस्तान! कहा- अब आतंकियों पर....

विदेश मंत्रालय के डिप्टी प्रवक्ता ‘रॉबर्ट पैलाडिनो’ ने कहा कि पोम्पियो और गोखले ने ‘पुलवामा आतंकी हमले’ पर बातचीत की गई जिससे कि न्याय मिल सके. आतंकवादियों के खिलाफ सार्थक कार्रवाई करने की पाकिस्तान की तत्परता पर भी बातचीत हुई.

इस दौरान अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो ने ये आश्वास देते हुए कहा कि आतंक के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका भारत सरकार और भारत के लोगों के साथ है. दोनों के बीच ‘आतंकवाद’ समेत परस्पर हितों वाले द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर बातचीत हुई.

यह भी पढ़े : भारत के बाद अमेरिका ने पाकिस्तान के खिलाफ लिया ये धमाकेदार फैसला!

14 फ़रवरी को पुलवामा आतंकी हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव चरम पर है. इस हेल में ‘केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल’ (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हुए थे. इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान में स्थित आतंकी संगठन ‘जैश-ए-मोहम्मद’ ने ली, परंतु पाकिस्तान ने फिर भी उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की. इसके बाद भारत ने 26 फरवरी को पाकिस्तान में घुसकर ‘एयरस्ट्राइक’ की थी.

आतंकवाद को लेकर अमेरिका के सामने गिड़गिड़ाने पर मजबूर हुआ पाकिस्तान! कहा- अब आतंकियों पर....

भारत की कार्रवाई के अगले दिन 27 फ़रवरी को पाकिस्तान ने भृत्य सैन्य प्रतिष्ठान पर हमला कर दिया. पाक ने भारत का ‘मिग-21’ गिराया और उसके पायलट ‘अभिनंदन वर्तमान’ को हिरासत में ले लिया. दूसरी तरफ भारत ने पाकिस्तान का ‘एफ-16’ गिराया.

loading...