PNB महाघोटाला : ईडी ने नीरव मोदी को दिया अब तक का सबसे बड़ा झटका! कार्रवाई में जब्त…

85

PNB Mahagopala: The biggest blow to the accused Nirvav Modi! Seized property worth 637 crores (नई दिल्ली) : “पंजाब नेशनल बैंक” महाघोटाले के मुख्य आरोपी ‘नीरव मोदी’ के खिलाफ चल रही कार्रवाई में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की मुहिम रंग लाते हुए दिखाई दे रही है. सूत्रों की माने तो 1 अक्टूबर को ‘प्रवर्तन निदेशालय’ (ईडी) ने कहा है कि उसने दो अरब डॉलर के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) धोखाधड़ी मामले में भगोड़े आभूषण कारोबारी नीरव मोदी की 637 करोड़ रुपये की संपत्तियां जब्त की है. ये संपत्तियां भारत के अलावा चार अन्य देशों में स्थित हैं.

PNB महाघोटाला : ईडी ने आरोपी नीरव मोदी को दिया सबसे बड़ा झटका! कार्रवाई में जब्त...
नीरव मोदी

इसके आगे ईडी ने कहा है कि जब्त की गयी संपत्तियां, आभूषण, फ्लैट और बैंक बैलेंस आदि भारत, ब्रिटेन और न्यूयॉर्क समेत अन्य जगहों में स्थित हैं. इस तरह के बहुत ही कम कम मामले हैं जिनमें भारतीय एजेंसियों ने किसी आपराधिक जांच के सिलसिले में विदेश में संपत्तियां जब्त की हैं. साथ ही ‘प्रवर्तन निदेशालय’ (ईडी) का कहना है कि इन संपत्तियों को धन शोधन रोकथाम अधिनियम के तहत जारी पांच विभिन्न आदेशों के तहत जब्त किया गया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा है कि ईडी ने इसी मामले में एक अन्य आरोपी ‘आदित्य नानावती’ के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया है. उल्लेखनीय है कि नीरव मोदी और उसका मामा ‘मेहुल चोकसी’ इस मामले में मुख्य आरोपी हैं.

PNB महाघोटाला : ईडी ने आरोपी नीरव मोदी को दिया सबसे बड़ा झटका! कार्रवाई में जब्त...

इस कारण से की गई कार्रवाई

सूत्रों की माने तो ईडी ने यह कार्रवाई ‘पीएमएलए कोर्ट’ में पेश न होने के बाद की है. कोर्ट ने  घोटाले के मुख्य आरोपी ‘नीरव मोदी’ और उसके मामा ‘मेहुल चोकसी’ के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है. कोर्ट ने 11 अगस्त को नीरव सहित उसके भाई ‘निशाल’ और बहन ‘पूर्वी’ को सार्वजनिक समन जारी करते हुए 25 सितंबर तक पेश होने का आदेश दिया था. अगर यह तीनों लोग पेश नहीं होते हैं तो फिर इनको भगोड़ा घोषित कर दिया जाएगा.

Read Also : PNB महाघोटाले के अपराधी नीरव मोदी पर मोदी सरकार का चला चाबुक!

ईडी ने लगाए यह आरोप

जानकारी के अनुसार ईडी ने दोनों नीरव और मेहुल पर धन शोधन में लिप्त होने और घोटाले के सामने आने से पहले ही भारत से फरार हो जाने के आरोप लगाए हैं. पूर्वी और निशाल के खिलाफ नोटिस में उनसे यह बताने के लिए कहा गया है कि क्यों न आवेदन में वर्णित संपत्तियों (ईडी की ओर से पूर्व में दर्ज) को उपरोक्त अध्यादेश के तहत जब्त किया जाए. 

PNB महाघोटाला : ईडी ने आरोपी नीरव मोदी को दिया सबसे बड़ा झटका! कार्रवाई में जब्त...
मेहुल चोकसी

सूत्रों की माने तो कोर्ट ने ‘निशाल’ और ‘पूर्वी’ को 25 सितंबर को सुबह 11 बजे अदालत के समक्ष पेश होने का आदेश दिया था. इसी तारीख को नीरव मोदी को भी पेश होने के लिए कहा गया था. 

आपको बता दें कि नीरव मोदी के खिलाफ तीसरे सार्वजनिक नोटिस में उसे उसी दिन और उसी वक्त अदालत में पेश होने के लिए कहा गया. इसमें कहा गया जैसा कि तुम देश छोड़ कर भाग गए हो और मामले की सुनवाई के लिए आने से इनकार कर रहे हो तो इस हालत में तुम्हें उपरोक्त अध्यादेश के तहत भगोड़ा घोषित किया जाना चाहिए.

इन जगहों से संपत्तियां की जब्त

ईडी ने इस मामले ने धन शोधन कानून (पीएमएलए एक्ट) के तहत जिन संपत्तियों को जब्त किया है उसमें 5 विदेशी बैंक खाते (कुल राशि 278 करोड़ रुपये), हांगकांग से बरामद की गई हीरे की ज्वैलरी (22.69 करोड़ रुपये) और 19.5 करोड़ रुपये के मूल्य का दक्षिण मुंबई में स्थित एक फ्लैट शामिल है.

PNB महाघोटाला : ईडी ने आरोपी नीरव मोदी को दिया सबसे बड़ा झटका! कार्रवाई में जब्त...
पंजाब नेशनल बैंक

सूत्रों की माने तो ईडी ने 216 करोड़ रुपये मूल्य की न्यूयॉर्क में स्थित दो संपत्तियों को भी जब्त किया है. जानकारी के अनुसार ईडी ने यह कार्रवाई ‘पीएमएलए एक्ट’ के सेक्शन 5 के तहत की है. 

Loading...