सबरीमाला मंदिर मामला : हिंसा फैलाने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस ने कर डाली ये धमाकेदार कार्रवाई! हजारों लोगों को…

31

Sabarimala Temple case: Police carried out a violent act against those who spread violence! Thousands arrested (तिरुवनंतपुरम) : हाल ही में केरल के ‘सबरीमाला मंदिर’ में दो महिलाओं ने प्रवेश कर ‘भगवान अयप्पा स्वामी’ के दर्शन किए. जिसको लेकर राज्य में हिंसा का माहौल बन गया. देखते ही देखते यह हिंसा ने विकराल रूप ले लिया. सूत्रों की माने तो दोनों महिलाओं के प्रवेश के बाद हुई हिंसा मामले में अबतक करीब डेढ़ हजार से भी अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

सबरीमाला मंदिर मामला : हिंसा फैलाने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस ने कर डाली ये धमाकेदार कार्रवाई! हजारों लोगों को...

ध्यान देने वाली बात यह है कि इस हिंसा में शामिल प्रदर्शनकारियों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई अब भी लगातार जारी है. आपको बता दें कि शुक्रवार 4 जनवरी को पुलिस ने कन्नूर जिले में हुई हिंसा के मामले में 20 लोगों को हिरासत में लिया है.

राज्य के डीजीपी ‘लोकनाथ बेहेरा’ ने जानकारी देते हुए कहा है कि शुक्रवार 4 जनवरी को हुई हिंसा में पुलिस ने 33 लोगों को गिरफ्तार किया गया. दूसरी तरफ पाठानामठित्ता जिले में हुई हिंसा में 76 मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि 25 लोगों को पुलिस ने रिमांड पर लिया है, इसके अलावा 204 लोगों को हिरासत में लिया गया. हिंसा मामले में कुल 110 लोगों को गिरफ्तार किया है.

सबरीमाला मंदिर मामला : हिंसा फैलाने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस ने कर डाली ये धमाकेदार कार्रवाई! हजारों लोगों को...

हिंसा के दौरान CPI(M) नेता के घर पर बम से हमला

हिंसा के चलते कुछ अज्ञात हमलावरों ने कन्नूर जिले में सीपीआइ (एम) विधायक ‘एएन शमसीर’ के घर पर बम से हमला क्र दिया है. फ़िलहाल इस मामले में पुलिस अभी जांच कर रही है.

यह भी पढ़े : विश्व प्रसिद्ध सबरीमाला मंदिर की टूटी 800 साल पुरानी परंपरा! 

इस घटना को लेकर पोलिने ने कहा है कि ‘विधायक शमसीर के मडप्पेडिका स्थित आवास पर रात करीब 10:15 बजे देसी बम फेंके गए. हमलावर मोटरसाइकल पर आए और बम फेंककर फरार हो गए. 

सबरीमाला मंदिर मामला : हिंसा फैलाने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस ने कर डाली ये धमाकेदार कार्रवाई! हजारों लोगों को...

सबरीमाला मंदिर में दो महिलाओं के घुसने के बाद फैली हिंसा

सूत्रों की माने तो मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश के बाद से राज्य में लगातार स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है, अलग-अलग स्थानों पर विरोध प्रदर्शन हो रहा है. कई इलाकों में उग्र प्रदर्शन भी देखने को मिला. गुरुवार 3 जनवरी को सबरीमाला कर्म समिति के नेतृत्व में कई हिंदू संगठनों ने राज्य में हड़ताल बुलाई. दुर्भाग्यपूर्ण इस हड़ताल ने उग्र रूप ले लिया और जगह-जगह पत्थरबाजी, आगजनी की घटनाएं देखने को मिली. इस हिंसा में 55 वर्षीय ‘चंद्रन उन्नीथन’ की मौत हो गई, जबकि बहुत लोग घायल हुए हैं.

सबरीमाला मंदिर मामला : हिंसा फैलाने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस ने कर डाली ये धमाकेदार कार्रवाई! हजारों लोगों को...

हिंसा में शामिल करीब डेढ़ हजार से अधिक लोगों को किया गिरफ्तार 

ध्यान देने वाली बात यह है कि अभी तक हिंसा के 801 मामलों में पुलिस डेढ़ हजार से भी अधिक लोगों को हिरासत में लिया है, जबकि 717 अन्य लोग नजरबंद हैं. सूत्रों की माने तो हिंसा को देखते हुए ‘कांग्रेस’ और ‘भाजपा’ भी राज्य सरकार के खिलाफ सड़क पर आ गई हैं. साथ ही मंदिर में दोनों महिलाओं के घुसने को लेकर भी सवाल उठाए.

loading...