गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर में इस बड़ी घटना को अंजाम देने के साजिश में आतंकी! भारतीय सेना ने शुरू की ये बड़ी कार्रवाई…

23

Terror in conspiracy to carry out this major incident in Jammu and Kashmir on Republic Day (श्रीनगर) : अभी-अभी ‘जम्मू-कश्मीर’ से एक बड़ी खबर आई है. जिसके बाद देशभर में हलचल पैदा हो आगी है. इस बात को हम भलीभांति जानते हैं कि 26 जनवरी को देशभर में ‘गणतंत्र दिवस’ मनाया जाएगा. इस मौके पर आतंकी बड़ी आतंकी घटना को अंजाम देने की फ़िराक में हैं.

गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर में इस बड़ी घटना को अंजाम देने के साजिश में आतंकी! भारतीय सेना ने शुरू की ये बड़ी कार्रवाई...
गणतंत्र दिवस

सूत्रों की माने तो सुरक्षाबलों के बढ़ते दबाव और अधिकांश कमांडरों के मारे जाने से हताश 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के मौके पर आतंकी संगठन अपने बचे खुचे कैडर का मनोबल बनाए रखने के लिए राज्य में दोनों राजधानी शहरों श्रीनगर व जम्मू में किसी बड़ी आतंकी गतिविधि को अंजाम देने की फिराक में हैं.

ध्यान देने वाली बात यह है की ‘भारतीय सेना’ के जवानों ने आतंकियों के मंसूबों के मद्देनदर समय रहते नाकाम बनाते हुए कानून व्यवस्था का माहौल बनाए रखने के लिए अलग-अलग इलाकों में तलाशी अभियान शुरू कर दिया है. जानकारी के अनुसार आतंकियों ने श्रीनगर और जम्मू में अपने मॉड्यूल सक्रिय कर दिए हैं. इसका सुबूत दो दिन पहले श्रीनगर के लालचौक में ‘केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल’ (सीआरपीएफ) पर हुए ग्रेनेड हमले और करीब 15 दिन पहले जम्मू बस स्टैंड पर हुए बम धमाके से मिला है.

गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर में इस बड़ी घटना को अंजाम देने के साजिश में आतंकी! भारतीय सेना ने शुरू की ये बड़ी कार्रवाई...
भारतीय सेना

साथ ही पिछले एक सप्ताह में श्रीनगर में हथियारों संग पकड़े गए दो आतंकियों से पूछताछ और खुफिया तंत्र की ओर से जुटाई गई सूचनाओं ने भी आतंकी मंसूबो का पर्दाफाश हुआ है. सूत्रों की माने तो गणतंत्र दिवस और उससे पहले आतंकी किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फ़िराक में लगे हुए हैं. वह सुरक्षाबलों के शिविरों और महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों के अलावा कुछ खास लोगों को निशाना बनाने की फिराक में हैं. इसके अलावा आतंकी सनसनी फैलाने के लिए किसी महत्वपूर्ण जगह पर कोई बम धमाका भी कर सकते हैं. तलाशी अभियान चलाए जा रहे आतंकियों की साजिश को नाकाम बनाने के लिए ही श्रीनगर में रोजाना जवानों की तरफ से औचक घेराबंदी कर तलाशी अभियान (कासो) चलाए जा रहे हैं.

रविवार 13 जनवरी को पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने मिलकर श्रीनगर के गुजरबल वीर छत्ताबल, नूरबाग, ‘एसपी कॉलेज’ बंड बरबरशाह के अलावा ‘मैसूमा पुलिस स्टेशन’ की सीमा में आने वाले अलग-अलग में कासो चलाए.

गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर में इस बड़ी घटना को अंजाम देने के साजिश में आतंकी! भारतीय सेना ने शुरू की ये बड़ी कार्रवाई...
एसपी

सूत्रों की माने तो आतंकियों का एक मॉड्यूल पिछले सप्ताह सक्रीय हुआ. ग्रीष्मकालीन राजधानी में आतंकियों का एक मॉड्यूल बीते सप्ताह ही सक्रिय हुआ है, जो गणतंत्र दिवस के मौके पर किसी भयंकर ‘आतंकवादी’ साजिश को अंजाम देने की योजना में है. इस मॉड्यूल से जुड़े आतंकियों को दबोचने के लिए ही श्रीनगर के भीतरी और बाहरी इलाके में आवासीय कॉलोनियों में तलाशी अभियान जारी है.

यह भी पढ़े : भारत-चीन बॉर्डर पर भारतीय सेना के हाथ लगी ये बड़ी कामयाबी!

साथ ही रविवार 13 जनवरी को तारजु सोपोर में आतंकियों के एक आत्मघाती दस्ते के छिपे होने की सूचना पर कासो चलाया गया है, जो देर शाम तक जारी था. धर्मस्थलों और हाईवे की भी सुरक्षा बढ़ाई गई आतंकियों के मंसूबों को ध्यान में रखते हुए वादी में अल्पसंख्यकों की बस्तियों की सुरक्षा की समीक्षा कर उसमें व्यापक सुधार लाने के अलावा विभिन्न धर्मस्थलों की सुरक्षा भी बढ़ाई गई है। सूत्रों ने बताया कि श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है.

गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर में इस बड़ी घटना को अंजाम देने के साजिश में आतंकी! भारतीय सेना ने शुरू की ये बड़ी कार्रवाई...
आतंकवादी

सुरक्षाबलों ने हाईवे पर आतंकी हमले को देखते हुए विभिन्न सेक्टरों में विभाजित करते हुए सुरक्षा की आवश्यकतानुसार जवानों की तैनाती की गई. जम्मू रेलवे स्टेशन, बस अड्डों की सुरक्षा कड़ी, नाकों की संख्या बढ़ाई जम्मू में भी विभिन्न इलाकों में पुलिस व अर्धसैनिकबलों की तैनाती भी बढ़ाई गई है. रेलवे स्टेशन और बस अड्डों की सुरक्षा बढ़ाने के साथ शहर में आने जाने के रास्तों पर भी नाकों की संख्या में बढ़ोतरी की गई. अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर और भी सक्रियता के साथ चौकसी बढ़ाई. इसके अलावा स्थानीय लोगों को भी किसी संदिग्ध को देखते ही निकटवर्ती सुरक्षा चौकी में सूचित करने के लिए निर्देश दिए गए हैं. 

loading...