मोदी राज में मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के इस खास आदमी पर ईडी ने की ये धमाकेदार कार्रवाई…

188

This blatant action was taken by the ED on Mumbai attack mastermind Hafiz Saeed in Modi Government (गुरुग्राम) : हरियाणा के गुरुग्राम से ‘मुंबई हमले’ (26/11) का मास्टरमाइंड व ‘लश्कर-ए-तैयबा’ सरगना ‘हाफिज सईद’ से जुड़ी एक चौंका देने वाली खबर सामने आई है. जिसके बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई है. सूत्रों की माने तो जांच एजेंसी ‘प्रवर्तन निदेशालय’ (ईडी) ने हाफिज सईद से जुड़ी करोड़ों रुपये कीमत का विला गुरुग्राम में कुर्क किया.

मोदी राज में मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के इस खास आदमी पर ईडी ने की ये धमाकेदार कार्रवाई...
हाफिज सईद

चौंकाने वाली बात यह है कि ईडी ने जो विला कुर्क किया है वह हाफिज सईद के फाइनेंसर कश्मीरी व्यापारी ‘जहुर अहमद शाह वटाली’ ने खरीदा था. आपको बता दें कि ‘राष्ट्रीय जांच एजेंसी’ (एनआईए) ने वटाली को आतंकी संगठनों को फंडिंग करने के आरोप में दबोचा था.

यह भी पढ़े : मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के संगठन को लेकर पाक की खुली पोल!

इस मामले को लेकर ईडी ने कहा कि यह विला ‘फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन’ (एफआईएफ) के पैसों से खरीदा गया था. पाकिस्तान में इस संगठन को हाफिज सईद चलाता है. जांच एजेंसियों का कहना है कि विला खरीदने के लिए यह पैसा संयुक्त अरब अमीरात से हवाला द्वारा पहुंचा.

मोदी राज में मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के इस खास आदमी पर ईडी ने की ये धमाकेदार कार्रवाई...
जहूर अहमद शाह वटाली

सूत्रों की माने तो इन पैसों का मकसद आतंकी गतिविधियों को अंजाम देना भी था. फ़रवरी में ईडी ने ‘एफआईएफ’ के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था. इस केस के आधार पर ही गुरुग्राम का विला कुर्क किया गया.

एनआईए ने सितंबर 2018 में एक मामले की जांच में पाया कि ‘सलमान’ नाम के व्यक्ति को एफआईएफ से पाकिस्तान में पैसा मिला था. इसी के आधार पर ईडी ने आगे की जांच की. ईडी को खुफिया जानकारी मिली है कि यह पैसा पाकिस्तान से संयुक्त अरब अमीरात पहुंचा और वहां से भारत आया. इस पैसे का उपयोग भारत में प्रॉपर्टी खरीदने में किया गया.

मोदी राज में मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के इस खास आदमी पर ईडी ने की ये धमाकेदार कार्रवाई...

साथ जांच एजेंसी ने यह भी कहा है कि लश्कर सरगना हाफिज सईद की 24 बेनामी संपत्तियां हैं. जिनका आरोपी जहूर अहमद शाह वटाली द्वारा अलग-अलग जगहों पर उपयोग किया गया. इस बारे में ईडी के पास संबंधित बैंक खातों के साक्ष्य हैं.

loading...