आतंकवाद को लेकर अमेरिका ने पाकिस्तान को किया बेनकाब! कहा- भारत में आतंकी गतिविधियों को…

81

US expands Pakistan by taking India’s stand on terrorism (वाशिंगटन) : अभी-अभी ‘अमेरिका’ से ‘पाकिस्तान’ को लेकर चौंकाने वाली खबर सामने आई है. जिसके बाद पाकिस्तान की मुश्किलें बढ़ने वाली है. सूत्रों की माने तो ‘अमेरिकी ग्लोबल सिक्योरिटी’ रिव्यू ने एक बार फिर से पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को कठघरे में लाकर खड़ा किया है.

आतंकवाद को लेकर अमेरिका ने पाकिस्तान को किया बेनकाब! कहा- भारत में आतंकी गतिविधियों को...
डोनाल्ड ट्रंप

जरी रिपोर्ट में बताया गया है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ‘आईएसआई’ ने आतंकवादी संगठनों का समर्थन किया है जो भारत में सामरिक रूप से सक्रिय हैं. इसके अलावा यह भी बताया गया है कि यह अफगानिस्तान में भी अपना अधिक प्रभाव डालते हैं.

यह भी पढ़े : आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए इमरान सरकार की ने चली ये भयंकर चाल!

रिपोर्ट की माने तो आईएसआई पर जम्मू कश्मीर में घुसपैठ के कई ठोस दावे किए गए हैं. साथ ही जम्मू के लगातार किश्तवाड़ जिले में बीते 7 दिसंबर को हुए हमले के पीछे भी ‘आईएसआई’ का हाथ होने का भी दावा किया है. सूत्रों की माने तो इस हमले के बाद गिरफ्त में आए गुप्तचर को आईएसआई का खबरी तक बताया गया है.

आतंकवाद को लेकर अमेरिका ने पाकिस्तान को किया बेनकाब! कहा- भारत में आतंकी गतिविधियों को...
आईएसआई

अमेरिका के एक वरिष्ठ संपादक और अतंरराष्ट्रीय मामलों के विशेषज्ञ एवं साक्षात्कारकर्ता ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ‘आईएसआई’ आये दिन लगातार जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की मदद कर रही है. बीते 7 दिसंबर को जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में हुई घटना का उदाहरण दिया बताया है. सूत्रों की माने तो जहां पुलिस ने संदिग्ध व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. जिसका नाम ‘शहरान शेख’ है, जो आईएसआई के लिए काम करता है. इसके आगे उन्होंने लिखा है कि चूंकि यहां परिस्थिति न्यायिक रूप से अनसुलझी हैं, इस घटना ने एक बार फिर से पाकिस्तान की आईएसआई और क्षेत्र के आतंकी संगठनों के साथ उसके रिश्ते को सामने लाने का काम किया.’

साथ ही यह भी लिखा है कि पाक अपनी इस प्रकार की नापाक हरकतों के माध्यम से क्षेत्रीय विरासत का प्रचार करते हुए ‘भारत’ और ‘अफगानिस्तान’ की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा पैदा कर रहा है. पाक की यह एजेंसी आतंकियों की मदद के अलावा उनको पैसा भी प्रदान करता है.

आतंकवाद को लेकर अमेरिका ने पाकिस्तान को किया बेनकाब! कहा- भारत में आतंकी गतिविधियों को...
आतंकवादी

ध्यान देने वाली बात यह है कि जिन संगठनों को यह एजेंसी मदद करती है उनमें ‘अफगान तालिबान’ और ‘हक्कानी नेटवर्क’ हैं जिसके परिणामस्वरूप आईएसआई को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मानवाधिकारों के उल्लंघन के कारण कड़ी आलोचना झेलनी पड़ी. गिलियर्ड ने आईएसआई को आतंकवाद से निपटने के लिए बनाई गई नीतियों को लागू करने में असफल बताया.

loading...