आँखों के इंफेक्शन से बचने के लिए अपनाएँ ये आयुर्वेदिक घरेलू उपचार

239

आंखे हमारे शरीर का एक बहुत महत्वपूर्ण अंग है साथ ही ये हमारी खूबसूरती की पहचान है इसलिए इसकी देखभाल करना हमारी जिम्मेदारी होनी चाहिए.

आँखों के इंफेक्शन से बचने के लिए अपनाएँ ये आयुर्वेद घरेलू उपचार
image source

 बता दें कि आए दिन हमारी आंखों को धूल और गंदगी का सामना करना पड़ता है.  ऐसे में कुछ बीमारी जैसे आंख के इंफेक्शन जैसी समस्या हमें परेशान करने लगती है.  यदि आप इस समस्या से बचना चाहते है तो अपनाएँ हमारे ये आयुर्वेदिक घरेलू उपचार.. .  

शहद

आँखों के इंफेक्शन से बचने के लिए अपनाएँ ये आयुर्वेद घरेलू उपचार
शहद image source

बता दें कि शहद हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद है.  यह इम्यून बढ़ाती है, जीवाणुओं से लड़ती है, कटने और जलन के उपचार को बढ़ावा देती है. और पेट में गड़बड़ी को दूर करने में भी मदद करती है. शहद में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं. जिससे बैक्टीरिया के कारण संक्रमण को मारने में मदद मिल सकती है. अगर आपको आंखों में कोई समस्या है जैसे- खुजली, दर्द, सूखापन या किसी प्रकार संक्रमण तो शहद इसमें मददगार साबित हो सकता है. इसके लिए आप शहद को गुनगुने पानी में मिला लें और साफ कपटे या कॉटन बॉल से आंखों के प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं. इससे आंखों का इंफेक्शन जल्द ही सही हो जाएगा।

दही

आँखों के इंफेक्शन से बचने के लिए अपनाएँ ये आयुर्वेद घरेलू उपचार
दहीं image source

पोटेशियम, फास्फोरस, रिबोफ़्लिविन, आयोडीन, जस्ता, और विटामिन बी5 से भरपूर दही आपके आंखों के इंफेक्शन को कम करने में मदद करता है. दही का प्रयोग आंखों में लाली को कम करने में मदद कर सकता है. इसके लिए आप दही में एक साफ कपड़े भिगोएं और सीधे प्रभावित क्षेत्र पर लागू करें।

आंवला

आँखों के इंफेक्शन से बचने के लिए अपनाएँ ये आयुर्वेद घरेलू उपचार
आंवला image source

भारत में आमतौर पर आंवले के रूप में जाना जाने वाला इंडियन गोसबेरी, सबसे अच्छी खुराक है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली या इम्यून सिस्टम को बढ़ाता है.  आमला विटामिन सी का एक उत्कृष्ट स्रोत है, इसलिए यह आपके इम्यून, चयापचय या मेटाबॉल्जिम को बढ़ावा देने और वायरल और बैक्टीरियल बीमारियों को रोकता है, जिसमें ठंड और खांसी भी शामिल है. अगर आपके आंख में किसी तरह की समस्या है तो आप आंवले का सेवन कर सकते हैं. इस फल का रस पीने से जीवाणु या कवक की वजह से संक्रमण से लड़ने का एक प्रभावी तरीका है।

लहसुन

आँखों के इंफेक्शन से बचने के लिए अपनाएँ ये आयुर्वेद घरेलू उपचार
लहसुन image source

अपने मजबूत सुगंध और एक अलग स्वाद के अलावा, लहसुन एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के लिए जाना जाता है. आयुर्वेद में तो लहसुन को औषधि माना गया है. लहसुन में ऐसे गुणकारी तत्वल मौजूद होते हैं जो आपको कई बीमारियों से दूर रखते हैं।

नियमित रूप से लहसुन का उपभोग शरीर के बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करता है. इसमें मौजूद एलिसिन और एंटी ऑक्सीडेंट गुणों के कारण कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है. यह रक्तचाप और रक्त शर्करा या ब्लड शुगर के स्तर को विनियमित करने के लिए बेहद फायदेमंद है. इस लिए अपने डाइट अहसुन जरूर डालें. लहसुन के रस में एंटी-बैक्टीरियल होते हैं, जो आई स्टाई को दूर करने में मददगार होते हैं. उपचार के लिए ताजा लहसुन का रस स्टाई पर लगाएं, लेकिन ध्यान रहे कि कैसे भी यह रस आंख के भीतर न जाए।

एलोवेरा जेल

आँखों के इंफेक्शन से बचने के लिए अपनाएँ ये आयुर्वेद घरेलू उपचार
एलोवेरा image source

एलोवेरा न केवल त्वचा बल्कि आंखों की समस्याओं में भी कारगर है. ज्यादातर देखा गया है कि कंप्यूटर के सामने घंटों बैठे रहने पर, टीवी को लगातार देखने पर या नींद पूरी न होने पर आंखों की समस्या पैदा हो जाती है या फिर आंखें संक्रमित हो जाती है. ऐसे में नेत्र संक्रमण के उपचार के लिए, एक सूखा और साफ कपडा या कॉटन बॉल का उपयोग करें और इसे एलोवेरा जेल के साथ भिगोएं और इसे प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं. इसके अलावा ऐसे में दो चम्मच एलोवेरा जेल को पानी में मिलाएं और इससे आंखों को धो लें।

 

Loading...