अमेरिका ने भी माना पीएम मोदी का लोहा! मोदी राज में भारत-अमेरिका के रिश्तों में आई…

145

America also believes Prime Minister Narendra Modi’s iron! This is the reason for the sweetening of Indo-US relations (अमेरिका) : सूत्रों की माने तो सत्ता में भाजपा सरकार और प्रधानमंत्री ‘नरेंद्र मोदी’ के कार्यकाल में ‘भारत-अमेरिका’ के रिश्तों में मधुरता आई है. इस बात को जानकारी ‘ट्रंप प्रसाशन’ के अधिकारी ने दी है. उन्होंने उम्मीद जाहिर करते हुए कहा कि भारत में आगामी ‘लोकसभा चुनाव’ के बाद भी संबंधों में और सुधार होंगे.

अमेरिका ने भी माना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लोहा! भारत-अमेरिका के रिश्तों में मधुरता आने का बताया ये कारण...
नरेंद्र मोदी

इस दौरान उन्होंने नाम न बताने के अनुरोध पर कहा कि पिछले साल 2018 में नई दिल्ली में आयोजित पहली भारत-अमेरिका ‘टू प्लस टू वार्ता’ द्वारा ने हमारे संबंधों को आगे बढ़ाया.

यह भी पढ़े : भारत और अमेरिका मिलकर इस शक्तिशाली ताकत का कर रहे हैं निर्माण!

सूत्रों की माने तो मोदी सरकार के सत्ता में पांच साल और हाल ही में भारत के विदेश सचिव ‘विजय गोखले’ के अमेरिकी दौरे को लेकर किए गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि ‘जबसे मोदी ने सत्ता संभाली है तब से भारत-अमेरिका का संबंध वास्तव में फला-फूला है.’

अमेरिका ने भी माना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लोहा! भारत-अमेरिका के रिश्तों में मधुरता आने का बताया ये कारण...
मोदी और ट्रंप

खासतौर पर मैं यह भी कहना चाहूंगा कि जून 2017 में पीएम मोदी की व्हाइट हाउस दौरे के कारण दोनों देशों के रिश्तों में बहुत प्रगति हुई थी. मैं सिर्फ यह कहूंगा कि विदेश सचिव ‘विजय गोखले’ का यह दौरा सिर्फ रिश्तों को सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ाने के लिए नवीनतम प्रयास हैं.

वरिष्ठ अधिकारी ने आगे कहा कि लोकसभा चुनाव में चाहें जो कोई भी चुना जाए हम उनके साथ भारत-अमेरिका के संबंधों को नया आयाम देंगे. इसमें भारत-अमेरिका के रणनीतिक हित भी शामिल हैं.

अमेरिका ने भी माना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लोहा! भारत-अमेरिका के रिश्तों में मधुरता आने का बताया ये कारण...
विजय गोखले

अमेरिकी अधिकारी ने यह भी कहा है दोनों देशों के रिश्तों में सुधार का सिलसिला आगे भी जारी रहेगा और दोनों देश विशेष रूप से ‘भारत- प्रशांत’ (इंडो-पैसेफिक) क्षेत्र में रणनीतिक सहयोग के रास्ते पर चलेंगे.

loading...