बिहार : कन्हैया कुमार के राजनीति में एंट्री को लेकर भाजपा समेत इस पार्टी ने की कड़ी आलोचना

127

Bihar: Kanhaiya Kumar doing politics in Lok Sabha elections (पटना) : जानकारी के अनुसार आपको याद दिला दें कि अगले साल लोकसभा चुनाव चुनाव होने वाले हैं. जिसको लेकर ‘जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय छात्र संघ’ (जेएनयू स्टूडेंट्स यूनियन) के पूर्व अध्यक्ष ‘कन्हैया कुमार’ बिहार के बेगूसराय से ‘भारतीय कम्‍युनिष्‍ट पार्टी’ (भाकपा) से उम्मीदवार होने की चर्चा है.

Bihar: Kanhaiya Kumar doing politics in Lok Sabha elections
कन्हैया कुमार

सूत्रों की माने तो कन्हैया कुमार को विपक्षी महागठबंधन (राष्‍ट्रीय जनता दल, कांग्रेस, हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा तथा राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी) के साथ सभी वाम दलों का सहयोग भी मिलेगा. जिसको लेकर बिहार में राजनीति गरमा गई है. भाजपा व जदयू ने इसपर कड़ी प्रतिक्रिया दी है तो वहीं राजद ने इसका स्‍वागत किया है.

Read Also : बिहार में बढ़ रही है सांप्रदायिक हिंसा!

वाम पार्टियों में हो गई सहमति

भाकपा के राज्य सचिव ‘सत्यनारायण सिंह’ ने जानकारी देते हुए कहा है कि उनकी पार्टी लोकसभा चुनाव में बेगूसराय, मधुबनी, मोतिहारी, खगड़िया, गया और बांका सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है. इसके अलावा उन्‍होंने कहा है कि कन्हैया कुमार बेगूसराय से चुनाव लड़ें, जिसको लेकर वामपंथी पार्टियों में भी पटना से दिल्ली तक एक राय बन गई है. कन्‍हैया कुमार के चुनाव लड़ने को लेकर ‘लालू प्रसाद यादव’ भी सहमत हैं, दरअसल अभी कोई औपचारिक बातचीत या घोषणा नहीं हुई है. चुनाव में कन्‍हैया कुमार को महागठबंधन के घटक दलों का भी सहयोग प्राप्त होगा. 

Bihar: Kanhaiya Kumar doing politics in Lok Sabha elections
सत्यनारायण सिंह’

भाकपा के बयान के बाद गरमायी राजनीति

कन्‍हैया कुमार को लेकर भाकपा के इस बयान से बिहार में राजनीति गरमा गई है. भाजपा के ‘संजय मयूख’ ने कहा है कि ‘ये कन्‍हैया आखिर है कौन?’ इसके आगे उन्होंने कहा है कि ‘बिहार देशभक्ति का पर्याय है, यह राष्‍ट्रवाद का प्रवर्तक रहा है.’ बिहार में कन्‍हैया जैसे लोगों का कोई काम नहीं है. जदयू के राष्‍ट्रीय महासचिव ‘केसी त्‍यागी’ ने भी कहा कि कन्‍हैया का छात्र जीवन प्रगतिशील अांदोलन से जुड़ा रहा, परंतु लालू प्रसाद यादव के समर्थन के साथ उनकी राजनीति में एंट्री दुर्भाग्‍यपूर्ण है. इसके आगे उन्होंने कहा है कि वामपंथी तो हमेशा से ही भ्रष्‍टाचार व परिवारवाद के खिलाफ लड़ते रहे हैं.

वहीं राजद के ‘मृत्‍युंजय तिवारी’ ने इसको लेकर चुनाव लड़ने का स्‍वागत किया है. साथ ही कहा है कि तेजस्‍वी यादव, कन्‍हैया कुमार व हार्दिक पटेल जैसे युवा नेताओं से राजद डर गया है.

Bihar: Kanhaiya Kumar doing politics in Lok Sabha elections
संजय मयूख

अभी कुछ भी तय नहीं : कन्‍हैया

ध्यान देने वाली बात यह है कि कन्‍हैया ने चुनाव लड़ने वाले बयान को लेकर कहा है कि फिलहाल कुछ भी तय नहीं है. उनके अनुसार यदि कोई पार्टी टिकट देती है तो वे चुनाव लड़ेंगे. परंतु अभी ऐसी कोई बात नहीं है.

कन्‍हैया देशद्रोह के आरोप में जमानत पर हैं बाहर

सूत्रों की माने तो कन्‍हैया कुमार बिहार के बेगूसराय जिला स्थित बरौनी प्रखंड अंतर्गत बिहट पंचायत के रहने वाले हैं. जेएनयू स्टूडेंट्स यूनियन अध्यक्ष रहते हुए कन्‍हैया पर फरवरी 2016 में देशद्रोही नारेबाजी का आरोप लगा. जिसको लेकर उनको गिरफ्तार कर लिया था. लेकिन अभी वे जमानत पर हैं. सूत्रों की माँ तो जमानत के बाद वह बिहार की राजनीति में सक्रिय हैं. जिस दौरान वह ‘लालू प्रसाद यादव’‘नीतीश कुमार’ से भी मुलाकात कर चुके हैं. 

Bihar: Kanhaiya Kumar doing politics in Lok Sabha elections
लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार

सूत्रों की माने तो वर्तमान में बेगूसराय सीट अभी भाजपा बनी हुई है. इसी सीट पर कन्हैया के चुनाव लड़ने चर्चा हो रही है, वामपंथियों के प्रभाव वाला माना जाता है. भाजपा के ‘भोला सिंह’ अभी सांसद हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्‍होंने राष्‍ट्रीय जनता दल के ‘तनवीर हसन’ को करीब 58 हजार मतो से हराया था. भारतीय कम्‍युनिष्‍ट पार्टी के ‘राजेंद्र प्रसाद सिंह’ को तीसरा स्‍थान मिला था. 

Loading...