सपा-बसपा गठबंधन को लेकर भाजपा नेता ने दे डाली ये नसीहत! जिससे विरोधियों में मची खलबली…

363

BJP leader has given this admonition about SP-BSP coalition Thereby creating trouble in opponents (नई दिल्ली) : इस बात को हम भलीभांति जानते हैं कि इसी साल ‘लोकसभा चुनाव’ होने वाले हैं. वर्तमान में ‘मोदी सरकार’ सत्ता पर काबिज है. लोकसभा चुनाव में भाजपा के विजय रथ को रोकने के लिए आखिरकार 23 साल पुराने ‘गेस्ट हाउस कांड’ की दुश्मनी को भुलाकर ‘बसपा-सपा’ ने गठबंधन किया है.

सपा-बसपा गठबंधन को लेकर भाजपा नेता ने कह डाली ये बड़ी बात! जिससे विरोधियों में मची खलबली...
नरेंद्र मोदी

आपको याद दिला दें कि ‘बहुजन समाज पार्टी’ (बसपा) सुप्रीमो ‘मायावती’ ने गेस्ट हाउस कांड के पुराने जख्मों को भूलाकर समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ हाथ मिला लिया, उनके इस गठबंधन वाले फैसले पर राजनितिक प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है. इस गठबंधन को लेकर भाजपा ने निशाना साधा है. दूसरी तरफ कई अन्य दल इसका स्वागत भी कर रहे हैं.

चुनाव कौनसी पार्टी कितनी सीटों पर लड़ेगी

लखनऊ में आयोजित मीडिया से बातचीत के दौरान बसपा सुप्रीमो ‘मायावती’ और सपा अध्यक्ष ‘अखिलेश यादव’ ने घोषणा करते हुए कहा है कि आगामी ‘लोकसभा चुनाव’ में सपा और बसपा 38-38 सीटों पर लड़ेंगी.इसके अलावा दोनों पार्टियों ने चार सीटें छोड़ दी हैं, जिसमें दो सीटें सहयोगियों को मिलेगी. दूसरी तरफ दो सीटें कांग्रेस के हिस्से में आएगी. जिनमें ‘अमेठी’ और ‘रायबरेली’ है.

सपा-बसपा गठबंधन को लेकर भाजपा नेता ने कह डाली ये बड़ी बात! जिससे विरोधियों में मची खलबली...

सपा-बसपा को एक होने के लिए किसने कहा? 

इस गठबंधन को लेकर राजद नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री ‘तेजस्वी यादव’ ने कहा है कि उत्तर प्रदेश और बिहार से भाजपा की पराजय की शुरुआत हो गई है.

इसी बीच केंद्रीय वित्त मंत्री ‘अरुण जेटली’ ने कहा है कि ‘कांग्रेस का शहजादा हो, बंगाल की दीदी हों, आंध्र प्रदेश के बाबू हों, यूपी की बहनजी हों…सब दिल में इच्छा रखते हैं और सबकी तलवारें चुनाव के बाद निकलेंगी.’

यह भी पढ़े : लव जिहाद को लेकर भाजपा नेता कटारिया की हिन्दुओं को सलाह!

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ‘कमलनाथ’ का कहना है कि वर्तमान समय में भाजपा को रोकने के लिए गठबंधन की आवश्यकता है. साल 2014 में ‘भाजपा’ को केवल 31% वोट मिले थे और दावा किया था कि यह लोगों का जनादेश है, यह वोटों में विभाजन के कारण हुआ.

सपा-बसपा गठबंधन को लेकर भाजपा नेता ने कह डाली ये बड़ी बात! जिससे विरोधियों में मची खलबली...
तेजस्वी यादव

दूसरी तरफ इस गठबंधन को लेकर भाजपा नेता ‘सुधांशु त्रिवेदी’ ने पलटवार करते हुए कहा है कि ‘दोनों दल सिर्फ अपनी राजनीतिक जमीन बचाने के लिए एक साथ चुनाव लड़ रहे हैं. इसके आगे उन्होंने कहा है कि वैसे भी, यह उनकी पसंद है. हम आश्वस्त हैं. यदि सभी पार्टियां भी गठबंधन कर लें तब भी हम ही जीतेंगे.

loading...