जिहादियों की मोदी सरकार हिलाने की साजिश

189

बरेली :  उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में बीजेपी को प्रचंड बहुमत प्राप्त हुआ है| लेकिन सीएम पद को लेकर अभी राज्य में स्थिति साफ नहीं है| इस बीच राज्य में एक विवाद शुरु हो गया है| उत्तर प्रदेश के बरेली के पास शीशगढ़ के जियानगला गाँव में राष्ट्र की एकता और अखंडता विरोधी पोस्टर लगाये गए हैं। इन पोस्टरों में मुस्लिम लोगों को तुरंत गांव छोडने का आदेश दिया गया है।मुसलमानों को मिला गाँव छोरने का आदेश

एक प्रमुख समाचार पत्र में छपी खबर के अनुसार बरेली में यह पोस्टर बीजेपी की यूपी में महाविजय के अगले दिन ही लग गए थे| जब लोगों ने इस पर्चों को देखा तो हड़कम्प मच गया और गाँव से पर्चे हटवाए गए पुलिस ने इस मामले में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं।

पोस्टर में लिखा है कि अब उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बन गई है, तो उत्तर प्रदेश के हिंदुओं को मुस्लिमों के साथ वही करना चाहिए, जोकि डोनाल्ड ट्रंप कर रहे हैं।

हालांकि पुलिस के द्वारा कई पोस्टरों को हटा दिया गया है, लेकिन अभी भी कुछ पोस्टर लगे हुए हैं| गांव वालों ने कहा कि उन्हें इन पोस्टरों के बारे में बिल्कुल पता नहीं है कि ये किसने लगाये हैं|

इसके साथ ही पोस्टर में लिखा है कि बीजेपी की सरकार बनने वाली है और मुसलमान गाँव में रहने लायक नहीं है मुसलमानों को इस साल के अंत तक खुद ही यह गांव छोड़ देना चाहिए।

एसओ दलवीर सिंह ने बताया मामले की जांच चल रही है। तीन लोगों को पूछताछ को बुलाया गया है। अभी किसी को हिरासत में नहीं लिया है।

अनुमान लगाया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी को मिले मुसलमानों के बहुमत से दर कर राष्ट्र विरोधी ताकतों ने मुसलमानों के मन में भय व्याप्त करने के लिए और आपसी सौहार्द बिगारने की मंशा के तहत इस कम को अंजाम दिया है   गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार को आने वाले दिनों में ऐसी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है|

 

तरन्नुम जहाँ

 

 

 

loading...