प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस, सपा और बसपा को लेकर कही ऐसी बात कि तीनों पार्टियों में मचा हडकंप…

93

Prime Minister Modi said such a thing about Congress SP and BSP (बांदा) : सभी राजनितिक दल के नेता ‘लोकसभा चुनाव’ में अपना-अपनी पार्टियों को अधिक से अधिक सीट दिलाने के लिए हरसंभव कोशिश कर रहे हैं. इसी बीच प्रधानमंत्री ‘नरेंद्र मोदी’ दरभंगा के बाद बुंदेलखंड पहुंचे. यहां पहुंचकर बांदा में भाजपा प्रत्याशी ‘आरके सिंह पटेल’ का समर्थन करते हुए भाजपा विजय संकल्प रैली में सपा-बसपा के साथ कांग्रेस पर जोरदार हमला किया. 

प्रधानमंत्री मोदी कांग्रेस, सपा और बसपा को लेकर कही ऐसी बात कि तीनों पार्टियों में मचा हडकंप...
नरेंद्र मोदी

बांदा के ‘कृषि विश्वविद्यालय’ के मैदान में संबोधन के दौरान उन्होंने जात-पात के साथ ही पंथ व संप्रदाय पर राजनीति करने वाले सपा, बसपा और कांग्रेस को आगाह करते हुए कहा कि इन सबने आजादी के इतने वर्षों तक जाति-बिरादरी के नाम पर जनता से वोट मांगे, परंतु फिर क्या हुआ. पीएम मोदी ने कहा कि इनके सत्ता में आते ही बदले की कार्रवाई शुरु हो जाती थी. यह लोग एक भारत, श्रेष्ठ भारत की बात नहीं करना चाहते. इसके आगे उन्होंने कहा कि सपा और बसपा के लोग मेरी जाति का सर्टिफिकेट बांटने में जुटे हैं और कांग्रेस के नामदार मोदी के बहाने पूरे पिछड़े समाज को ही गाली देने में लगे हैं.

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि जमीन से पूरी तरह कट चुके लोग इस बार अपने ही खेल में फंस गए हैं. इन लोगों को ज्ञात ही नहीं हुआ कि 21वीं सदी का वोटर, यह नौजवान जिसकी जिंदगी के सारे सपने अधूरे हैं और वो इन्हें पूरा करने के लिए खपने के लिए तैयार है वो क्या चाहता है. वो इन नेताओं की समझ से बाहर है.

प्रधानमंत्री मोदी कांग्रेस, सपा और बसपा को लेकर कही ऐसी बात कि तीनों पार्टियों में मचा हडकंप...

उन्होंने कहा है कि जिसको लेकर हमारा ध्यान केवल विकास पर है. हमने संकल्प लिया है कि पानी के लिए अलग से ‘जलशक्ति मंत्रालय’ का निर्माण कराया जाएगा, जिसका अलग से बजट होगा. नदियां हों, समंदर हों, वर्षा का पानी हो, जितने भी संसाधन हैं सब जगह से तकनीक का उपयोग करके जरूरतमंद क्षेत्रों में जल पहुंचाया जाएगा.

 यह भी पढ़े : भारत माता की जय नहीं बोलने वाले देशद्रोही लोगों के खिलाफ पीएम मोदी ने लिया ये ताबड़तोड़ फैसला…

नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा है कि कांग्रेस ने राजनीति के इस मॉडल में सिर्फ व्यक्ति-व्यक्ति में ही भेद नहीं किया बल्कि क्षेत्रों के आधार पर भी भेदभाव किया गया. आप मुझे बताइये हमारे देश के महान बलिदानी ‘भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, झांसी की रानी और सुभाष चंद्र बोस’ किस जाति के थे. एक भी महापुरुष अपनी जाति से नहीं जाना जाता बल्कि अपने कार्यों से जाना जाता हैं. हर कोई भारतवासी था. 

प्रधानमंत्री मोदी कांग्रेस, सपा और बसपा को लेकर कही ऐसी बात कि तीनों पार्टियों में मचा हडकंप...

उन्होंने कहा कि इस ‘लोकसभा चुनाव’ में जो भी युवा पहली बार वोट डालने जा रहा है, नए भारत के नए संस्कारों का निर्माण कर रहा है. इसकी वजह है कि उस पर अतीत का बोझ नहीं है, उसके पास सिर्फ भविष्य के सपने हैं.

loading...