बंगाल में मुस्लिम ने टैक्सी में हनुमान जी और माता काली की तस्वीर को लगा देख छेड़ा नया जिहाद

2652

बंगाल : जैसा कि हम सभी इस बात को जानते है कि वर्तमान समय में ‘उबेर’ और ‘ओला’ जैसी कंपनियों के टैक्सी चल रही हैं. अधिकतर लोग सफ़र करने के लिए इनको मंगवाते हैं. इनकी मुख्य शाखा से आलावा भी हर शहर में लोकल शाखाएं होती हैं. टैक्सी कंपनी का ऐप है, जिसके द्वारा टैक्सी बुलाई जाती है. यह बहुत ही अची सुविशा है कि एप्स से टैक्सी बुलाइए, और सफ़र तय कीजिये.

बंगाल में मुस्लिम ने टैक्सी में हनुमान जी और माता काली की तस्वीर को लगा देख छेड़ा नया जिहाद
टैक्सी

सफर तय करने के लिए आपने भी कभी टैक्सी बुलाई होगी, कई बार ऐसा होता है कि हिन्दू ड्राईवर आ जाता है और कई बार ऐसा होता है कि मुस्लिम ड्राईवर आ जाता है. लेकिन क्या कभी आपने किसी भी धर्म के ड्राईवर से उनके धर्म को लेकर कुछ कहा है. आप ना ही करते हैं और ना ही किया, फिर भी देश में ऐसा हो रहा है.  

जानकारी के अनुसार यह खबर ‘पश्चिम बंगाल’ की राजधानी ‘कोलकाता’ से आई है. जहाँ पर ‘आबिद हसन’ नाम का मुस्लिम व्यक्ति रहता है. अगर आप इको फेसबुक पर खोजेंगे तो ये मिल भी जायेगा. सूत्रों के अनुसार आबित ने कहीं जाने के लिए उबेर कंपनी की टैक्सी को बुलाया, उसको कोलकाता में किसी एक स्थान से दुसरे स्थान जाना था. उसके बाद आबिद ने टैक्सी वाले के साथ जो किया चौंकाने वाला था. 

 बंगाल में मुस्लिम ने टैक्सी में हनुमान जी और माता काली की तस्वीर को लगा देख छेड़ा नया जिहाद

जानकारी के अनुसार ‘आबिद’ जैसे ही टैक्सी से उतरा तो उसने उस ड्राईवर को ऐप में 1 स्टार दे दिया, ऐसा आबिक ने क्यों किया, क्या टैक्सी ड्राईवर ने उसके साथ कुछ गलत बर्ताव किया. इस बात की सच्चाई खोलते हुए आबिद ने स्वयं ही बताया है. 

आबिद हसन ने आगे जानकरी देते हुए कहा है कि उन हिन्दू ड्राईवर ने अपनी टैक्सी में ‘हनुमान’ और ‘काली’ की तस्वीर लगा रखी थी. साथ ही उसने कहा था कि बंगाल में इस तरह का बर्दास्त नहीं किया जायेगा, ऐसा करना इस्लाम का अपमान करना है और मैंने हिन्दू ड्राईवर को फटाफट 1 स्टार दे दिया.

बंगाल में मुस्लिम ने टैक्सी में हनुमान जी और माता काली की तस्वीर को लगा देख छेड़ा नया जिहाद
मां काली

मुस्लिम व्यक्ति कैसे ‘हनुमान जी’ तथा ‘माता काली’ की तस्वीर को देखकर एक हिन्दू टैक्सी ड्राईवर के खिलाफ नफरत वाला जिहाद को आग दे दी है और साथ ही उसने यह भी कहा कि इस तरह का बंगाल में नहीं चलेगा. आज के समय में देश की स्थिति क्या है आप स्वय,म देख लीजिये, ये सेकुलरिज्म का ही तो मॉडल है 

Loading...