राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस के झूठे चेहरे का हुआ पर्दाफाश! सामने आया ये चौंकाने वाला खुलासा…

361

The false allegations of the Congress have exposed the Rafale deal! This shocking revealing (नई दिल्ली) : मोदी सरकार ने देश की सेना को अधिक शक्तिशाली बनाने के लिए फ्रांस की कंपनी ‘दसॉल्ट एविएशन’ से 36 ‘राफेल’ लड़ाकू विमान का सौदा किया. इस सौदे के बाद केंद्र की ‘मोदी सरकार’ को कांग्रेस ने घेरना शुरू कर दिया. जिसके बाद यह मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया. न्यायालय ने भी इस मामले में मोदी सरकार दे दी है.

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस का झूठा चेहरे का हुआ पर्दाफाश! सामने आया ये चौंकाने वाला खुलासा...
राफेल लड़ाकू विमान

सूत्रों की माने तो ‘राफेल’ अब एक ऐसा लड़ाकू हवाई जहाज बन गया है, जिस पर भाजपा और कांग्रेस दोनों ही सवार हो गई हैं. दोनों पार्टियों का मकसद केवल यही है कि किसी तरह इस पर सवार होकर 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में विजय हासिल कर ली जाए. इसके लिए दोनों पार्टियां एड़ी-चोटी का जोर लगा रही हैं. भाजपा की कोशिश है कि किसी भी तरह राफेल का मामला शांत हो जाए, परंतु कांग्रेस पार्टी आए दिन कोई न कोई नया दस्तावेज लाकर भाजपा की मुश्किलें खड़ी कर देती है. 

न्यायालय का फैसला आने के बाद अब भाजपा सवाल कर रही है कि कांग्रेस अध्यक्ष ‘राहुल गांधी’ को इस सौदे को लेकर सूचनाएं कौन दे रहा है. सोमवार 17 दिसंबर को केंद्रीय मंत्री ‘स्मृति ईरानी’ ने पश्चिम बंगाल में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा है कि राहुल को अवश्य बताना चाहिए कि उनकी सूचना का सूत्र कौन है. कांग्रेस पार्टी ने भी बताते वक्त देर नहीं लगाई कि हमें सूचना कौन दे रहा है.

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस का झूठा चेहरे का हुआ पर्दाफाश! सामने आया ये चौंकाने वाला खुलासा...
स्मृति ईरानी

सूत्रों की माने तो राफेल सौदे को लेकर न्यायालय का फैसला आने के बाद भाजपा ने कांग्रेस पर चौतरफा हमला बोल रखा है. संसद से लेकर सड़क तक भाजपा के मंत्री, सांसद और कार्यकर्ता कांग्रेस पार्टी को झूठा बता रहे हैं. वे ‘राहुल गांधी’ से माफी मांगने की मांग कर रहे हैं. उन्होंने कहा है कि इस सौदे को लेकर राहुल ने झूठ बोला है. जिससे ‘भारतीय सेना’ का कमजोर होता है.

यह भी पढ़े : राफेल सौदे को लेकर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस पर साधा निशाना!

ध्यान देने वाली बात यह है कि सोमवार 17 दिसंबर को भाजपा ने लगभग 70 जगहों पर मीडिया से बातचीत के दौरान कांग्रेस पर निशाना साधा है.

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस का झूठा चेहरे का हुआ पर्दाफाश! सामने आया ये चौंकाने वाला खुलासा...
राहुल गांधी

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा है कि झूठ लंबे समय तक टिकता नहीं है. इस सौदे पर राफेल से जुड़े सभी तकनीकी तथ्यों का बारीकी से अध्ययन करने कर कांग्रेस के झूठ का पर्दाफाश किया है. अब राहुल गांधी को यह बताना चाहिए कि उनको राफेल की सूचनाएं मुहैया कराने वाला सूत्र कौन है?

इन लोगों से मिलती है हमें राफेल की सूचनाएं- कांग्रेस

जब केंद्रीय मंत्री ईरानी से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि इस सवाल का जवाब कांग्रेस पार्टी के नेता ‘कपिल सिब्बल’ के पास है. दो दिन पहले ही उन्होंने इसका जवाब दिया है. 24 अकबर रोड स्थित कांग्रेस पार्टी के दफ्तर में एक प्रेसवार्ता में उन्होंने सवाल पूछा गया था किउन्हें राफेल की जानकारी कौन मुहैया कराता है.

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस का झूठा चेहरे का हुआ पर्दाफाश! सामने आया ये चौंकाने वाला खुलासा...
कपिल सिब्बल

दरअसल यह सवाल किसी भाजपा नेता को लेकर ही किया गया था कि वे ऐसा पूछ रहे हैं. जिसके जवाब ने कपिल सिब्बल ने कहा था कि भाजपा के ही कुछ लोग हैं जो हमें प्रधानमंत्री ‘नरेंद्र मोदी’ के खिलाफ ऐसे दस्तावेज देते हैं. राफेल की जानकारी भी वही लोग दे रहे हैं.

loading...