वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ आरोप याचिका दायर करने वाले इस वकील को सुप्रीम कोर्ट ने दी ये भयंकर सजा…

932

The Supreme Court has upheld the lawyer who filed the petition against Finance Minister Arun Jaitley (नई दिल्ली) : अभी-अभी ‘आरबीआई कैपिटल रिजर्व’ के मामले में उच्चतम न्यायालय ने वित्तमंत्री ‘अरुण जेटली’ को लेकर एक शानदार फैसला सुनाया है. जिसके बाद विपक्षियों में मातम पसर गया है. सूत्रों की माने तो न्यायालय ने अरुण जेटली के खिलाड़ आरोप लगाने वाली जनहित याचिका खारिज कर दी.

वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ आरोप याचिका दायर करने वाले इस वकील को सुप्रीम कोर्ट ने दी ये भयंकर सजा...
अरुण जेटली

ध्यान देने वाली बात यह है कि वित्त मंत्री जेटली के खिलाफ याचिका दायर करने वाले वकील पर ‘उच्चतम न्यायालय’ ने 50 हजार रुपये भारी जुर्माना लगाया है.

यह भी पढ़े : कांग्रेस को उच्चतम न्यायालय का जोरदार झटका!

हैरानी की बात यह है कि उच्चतम न्यायालय में वकील ‘मनोहर लाल शर्मा’ ने वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफएक पीआईएल दायर किया था, जिसमें वकील शर्मा ने अरुण जेटली के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी और आरोप लगाया था कि वह कुछ कंपनियों को ऋण छोड़ने के लिए आरबीआई के पूंजीगत रिजर्व को लूटना चाहते हैं.

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ‘रंजन गोगोई’ और न्यायमूर्ति ‘एस. के. कौल’ की पीठ ने कहा है कि हमें इस पीआईएल पर विचार करने की जरा भी वजह दिखाई नहीं दे रही है.

वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ आरोप याचिका दायर करने वाले इस वकील को सुप्रीम कोर्ट ने दी ये भयंकर सजा...
मनोहर लाल शर्मा

शीर्ष अदालत की मुख्य पीठ ने रजिस्ट्री को भी आदेश दिया है कि वकील मनोहर लाल शर्मा को तब तक अन्य कोई पीआईएल दाखिल करने की अनुमति नहीं है, जब तक वह 50 हजार रुपये जमा नहीं कर देते.

loading...