अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ संसद में वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी हुई नाकाम!

3648

नई दिल्ली : अभी-अभी खबर मिली है कि ‘वाईएसआर कांग्रेस’ और ‘तेलुगु देशम पार्टी’ (टीडीपी) की संसद में अविश्वास प्रस्ताव पेश करने की योजना को लेकर दोनों पार्टियों को बड़ा झटका दिया है. जानकारी के अनुसार वक अपने प्रस्ताव में नाकाम हो गई.

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ संसद में वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी हुई नाकाम!

साथ ही यह भी खबर मिली है कि लोकसभा और राज्यसभा में जोरदार हंगामे के बाद दोनों ही सदनों की कार्यवाही मंगलवार (20 मार्च) तक स्थगित कर दी गई. 

लोकसभा में बहस के दौरान गृहमंत्री ‘राजनाथ सिंह’ ने जानकारी देते हुए कहा है कि सरकार इस मामले को लेकर बहस के लिए तैयार है, परंतु सभा में हंगामे के कारण राजनाथ सिंह अपनी बात नहीं रख पाये. हंगामे के चलते स्पीकर ‘सुमित्रा महाजन’ ने कार्यवाही को मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दिया.  

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ संसद में वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी हुई नाकाम!
सुमित्रा महाजन

ताजा जानकारी 

12.10 AM: इस कार्यवाही के दौरान गृहमंत्री ‘राजनाथ सिंह’ ने बोलने का प्रयास किया, परंतु विपक्षों ने उनको बोलने का मौका नहीं दिया और हंगामा कर शुरू कर दिया. साथ ही गृहमंत्री राजनाथ ने कहा है कि सरकार हर तरह के मामले को लेकर बहस के लिए तैयार है, परंतु लोकसभा में बढ़ते हंगामे को देखकर कल तक स्थगित कर दिया गया। 

11.30 AM: टीआरएस के सांसद संसद के बाहर तख्ती लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। ये सांसद एक देश, एक कानून की मांग कर रहे हैं। ये सांसद तेलंगाना में आरक्षण कोटा बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। 

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ संसद में वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी हुई नाकाम!
राजनाथ सिंह

11.14 AM: शिवसेना सांसद ‘अरविंद सावंत’ ने अविश्वास प्रस्ताव के मामले को लेकर अपनी राय रखते हुए कहा है कि हम सरकार और विपक्ष दोनों का ही समर्थन नहीं करेंगे. 

11.02 AM: जानकारी के अनुसार यह लोकसभा कल 12 बजे तक स्थगित हो चुकी है. वहीं राज्यसभा को पूरे दिन के लिए स्थगित कर दिया गया है. 

10.37 AM:  संसदीय मामलों के मंत्री ‘अनंत कुमार’ ने कहा है कि हम अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने के लिए तैयार हैं. हम लोगों को स्वयं पर पूरा विश्वास है.  

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ संसद में वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी हुई नाकाम!
अरविंद सावंत

10.25 AM: संसद सचिवालय को अविश्वास प्रस्ताव के 3 नोटिस मिले हैं. 2 नोटिस टीडीपी से और 1 ‘वाईएसआरसीपी’ ने दिए है.  

10.08 AM: टीडीपी एमपी ‘थोटा नरसिम्हा’ ने आगाह करते हुए कहा है कि हम अविश्वास प्रस्ताव जरुर लाएंगे. हमने विपक्षी पार्टियों (टीएमसी, कांग्रेस और समाजवादी पार्टी) से मुलाकात कर बातचीत कर चुके हैं.  वाईएसआरसीपी केवल राजनीति कर रही है. उन्हें राज्य का डर नहीं है. 

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ संसद में वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी हुई नाकाम!
थोटा नरसिम्हा

9.55 AM: शिवसेना नेता ‘संजय राउत’ ने इसको लेकर कहा है कि हम देखेंगे कि स्पीकर अविश्वास प्रस्ताव को स्वीकार करते हैं या खारिज कर देते हैं. टीडीपी का मामला अपने राज्य के लिए है और हम इसका स्वागत करते हैं. दरअसल अभी तक हमने अविश्वास प्रस्ताव को लेकर कोई भी विचार नहीं किया है. इस मामले को ‘उद्धव ठाकरे’ ही संभालेंगे। 

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ संसद में वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी हुई नाकाम!
उद्धव ठाकरे

थोटा नरसिम्हा ने कहा- टीडीपी का यह मुद्दा विशेष राज्य का दर्जा के लिए 

ध्यान देने वाली बात यह है कि विशेष पैकेज के सवाल को लेकर आम बजट पेश होने के दिन से संसद में ‘वाईएसआर कांग्रेस’ और ‘टीडीपी’ के बीच इस मामले को लेकर श्रेय लेने की जंग छिड़ी हुई है. इसी बीच टीडीपी को जैसे ही इस मामले को लेकर वाईएसआर कांग्रेस के माध्यम से ‘मोदी सरकार’ के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस देने की जानकारी मिली, सूत्रों ने जानकारी देते हुए कहा है कि सरकार के बाद ‘राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन’ (राजग) से भी अलग होने का ऐलान कर दिया. जल्दी-जल्दी में टीडीपी ने भी लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था.

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ संसद में वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी हुई नाकाम!
नरेंद्र मोदी

टीडीपी के वरिष्ठ नेता ‘थोटा नरसिम्हा’ ने इस प्रस्ताव को लेकर कहा है कि विशेष राज्य का दर्जा टीडीपी का एक बड़ा मुद्दा है.साथ ही उन्होंने कहा था कि शुरुआत में इस मुद्दे से एकतरफा रही ‘वाईएसआर कांग्रेस’ अब इस हथियाना चाहती है. जबकि सब इस बात को जानते है कि विशेष राज्य का दर्जे के लिए हमारे मंत्रियों ने सरकार से त्यागपत्र दिया. पार्टी ने राजग से नाता तोड़ा. हम इस मुद्दे को लेकर त्याग की किसी भी हद तक जा सकते हैं. 

loading...