महाराष्ट्र : सरकार बनाते ही CM उद्धव को करारा झटका ! 400 शिवसैनिक भाजपा में हुए शामिल

29

नई दिल्ली : पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र की राजनीति में भारी उथल-पुथल मची हुई है और इसी उथल-पुथल के बीच महाराष्ट्र से चौंका वाली खबर आई है. दरअसल, मुंबई के धारावी में करीब 400 शिवसैनिकों ने पार्टी छोड़ दी है. सभी ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सदस्यता ग्रहण की है. इसको शिवसेना के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. बीजेपी में शामिल होने वाले एक कार्यकर्ता रमेश नदेशन ने कहा कि शिवसेना ने भ्रष्ट और हिंदू विरोधी दलों के साथ हाथ मिला लिया है. इससे हम नाराज हैं.

महाराष्ट्र : सरकार बनाते ही CM उद्धव को करारा झटका ! 400 शिवसैनिक भाजपा में हुए शामिल

इसके अलावा बाकि कार्यकर्ताओं का कहना है कि पिछले सात साल से वे एनसीपी और कांग्रेस के खिलाफ लड़ रहे थे. चुनाव के दौरान उन्होंने लोगों के घर-घर जाकर वोट मांगे थे लेकिन अब वे उनसे कैसे चेहरा मिला पाएंगे जिनसे उन्होंने ईमानदार सरकार बनाने के लिए वोट मांगे थे.

बता दें कि महाराष्ट्र में शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई है. तीनों दलों ने सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाए जाने पर सहमति दी जिसके बाद उनका शपथ ग्रहण हुआ. फिलहाल तीनों दलों से 2-2 विधायकों ने शपथ लिया है. बहुत जल्द कैबिनेट विस्तार होने की संभावना है. सूत्रों के मुताबिक, कैबिनेट पद को लेकर अंतिम फैसला हो गया है, सिर्फ ऐलान बाकी है.

बीते दिनों में बीजेपी और शिवसेना में तल्खी बढ़ गई है. ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री बनाए जाने के मुद्दे पर दोनों पार्टियों ने एक दूसरे से किनारा कर लिया. शिवसेना का आरोप है कि बीजेपी ने चुनाव से पहले शिवसेना को ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद देने की बात कही थी लेकिन नतीजे आने के बाद वह पलट गई. उधर बीजेपी का कहना है कि उसने शिवसेना से कभी ऐसा वादा नहीं किया. अंत में दोनों पार्टियों में इसी मुद्दे पर तकरार बढ़ गई और शिवसेना ने अपनी पुरानी सहयोगी पार्टी बीजेपी से अलग होकर कांग्रेस और एनसीपी के साथ सरकार बना ली.

loading...