परेश रावल ने अध्यक्ष पद के उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस से पूछा ऐसा सवाल कि सन्न रह गये कांग्रेसी

273

24 नवंबर, 2017 – कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर अभी सोनिया गाँधी हैं, अब जल्द ही राहुल गाँधी को पार्टी का अध्यक्ष बना दिया जायेगा. इसी को लेकर परेश रावल ने ऐसा सवाल पूछ दिया है जिसने कांग्रेस को हिलाकर रख दिया है.

परेश रावल ने अध्यक्ष पद के उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस से पूछा ऐसा सवाल कि सन्न रह गये कांग्रेसी
परेश रावल : भाजपा सांसद

वैसे तो कांग्रेस एक राजनीतिक पार्टी है लेकिन कांग्रेस पार्टी के अंदरूनी लोकतंत्र को देखकर कहा जा सकता है कि ये कि ये किसी प्राइवेट कंपनी से कम नहीं है. अब कांग्रेस के अध्यक्ष पद को ही ले लीजिये.

जल्द ही राहुल गाँधी कांग्रेस के नए अध्यक्ष बनने वाले हैं. ये वही राहुल गाँधी हैं, जो पूरे देश में पप्पू के नाम से मशहूर हैं. इनके भाषण भी इनकी तरह ही महान हैं. कहीं कहते हैं कि जनता के लिए आलू की फैक्ट्री लगा देंगे, तो कहीं आलू की मशीन से सोना निकालने की बात करते हैं. इनके ऐसे भाषणों से ही इनकी बुद्धि का पता चलता है. लेकिन कांग्रेसियों को लगता है कि अध्यक्ष पद के लिए राहुल गाँधी से काबिल कोई दूसरा नहीं हो सकता. इसी सोच को लेकर कांग्रेस उनको ही अध्यक्ष बनाना चाहती है.

राहुल गाँधी को काबिल बताने वाली कांग्रेस कुछ दिन पहले मीरा कुमार को सबसे काबिल और समझदार बता रही थी. और ऐसा कहते-कहते कांग्रेस ने मीरा कुमार को राष्ट्रपति उम्मीदवार के रूप में उतार दिया था. और उनकी खूब तारीफ की थी. इसी को लेकर भाजपा के सांसद परेश रावल ने कांग्रेसियों से बेहद गंभीर सवाल पूछा है.

उन्होंने कहा कि अगर मीरा कुमार राष्ट्रपति पद के लायक हैं तो क्या वो कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए लायक नहीं हैं या फिर कांग्रेस अपने अध्यक्ष पद को भारत के राष्ट्रपति के पद से भी बड़ा समझती हो, जिस पर सिर्फ परिवारवाद ही चलता रहेगा.

परेश रावल ने अध्यक्ष पद के उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस से पूछा ऐसा सवाल कि सन्न रह गये कांग्रेसी

अब यहाँ पर दूसरा सवाल ये खड़ा होता है कि यदि कांग्रेस के अध्यक्ष के लिए गाँधी होना जरुरी है तो फिर कांग्रेस ने गोपालकृष्ण गाँधी को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए चुना था, कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए गाँधी होना जरुरी है, तो गोपालकृष्ण गाँधी में कोई समस्या नहीं है, उनके नाम के आगे भी गाँधी लगा हुआ है. सवाल तो बहुत उठ रहे हैं लेकिन कांग्रेस के पास शायद इसका कोई भी जवाब नहीं है.

कांग्रेस पार्टी के नेताओं की यही समस्या है कि वे जानते तो सब कुछ हैं लेकिन इसके बाद भी उन्हें कहना पड़ता है कि राहुल गाँधी से ज्यादा काबिल और बेहतर व्यक्ति कोई दूसरा है ही नहीं. कांग्रेसी नेता सच में चापलूसी और गुलामी की कला में सबसे आगे हैं. सब कुछ आँखों के सामने होकर भी वो अनदेखा कर देते हैं.

loading...