तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता का निधन, मरीना बीच पर 4:30 बजे पंचतत्व में विलीन होंगी जयललिता

168

चेन्नई, 6 दिसम्बर – तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे.जयललिता का सोमवार रात को निधन हो गया।

जयललिता के निधन से राज्य में शोक की लहर है।

jay-lalita-dead-1
मरीना बीच पर 4:30 बजे पंचतत्व में विलीन होंगी जयललिता

अपोलो हॉस्पिटल्स द्वारा जारी बयान के मुताबिक, “हम बड़े दुख के साथ माननीय मुख्यमंत्री जयललिता के निधन की घोषणा करते हैं।”

लोगों के अंतिम दर्शन के लिए जयललिता के पार्थिव शरीर को राजाजी हॉल में रखा गया है, जहां हजारों समर्थक अपनी ‘पुराची थलैवी अम्मा’  को अंतिम विदाई देने के लिए कतार में खड़े हैं. जयललिता की पसंदीदा हरे रंग की साड़ी में लिपटा हुआ उनका पार्थिव शरीर शीशे के बक्से में रखा गया है. यह बक्सा राजाजी हॉल की सीढ़ियों पर रखा गया है और सेना के चार जवानों ने उसे राष्ट्रीय ध्वज से ढक दिया है। चेन्नई के मरीना बीच पर मंगलवार शाम 4:30 उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

उनके निधन पर राज्य सरकार ने सात दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। राज्य में तीन दिनों तक स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे।

जयललिता को बुखार और डिहाइड्रेशन की शिकायत पर 22 सितंबर को अपोलो हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जयललिता को श्रद्धांजलि दी।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी दिवंगत मुख्यमंत्री के निधन पर शोक व्यक्त किया।

loading...