बहुत बड़ा खुलासा! लालू नहीं है तेजस्वी के पिता, तेजस्वी ने पटना रैली में खुद स्वीकारा, पढ़िये पूरा सच

455

30 अगस्त, 2017 –  राष्ट्रीय जनता दल के नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने पटना की रैली में भाषण देते हुए किया बहुत बड़ा खुलासा. इसके बाद लालू परिवार सहित पूरा देश हैरान है.

पटना की रैली के दौरान लालू यादव को पिता तुल्य बता दिया. पिता तुल्य का मतलब होता है पिता जैसा. तेजस्वी यादव ट्विटर पर ट्रोल हो रहे हैं, लोगों ने सवाल करने शुरू कर दिए है.

कई लोग कह रहे हैं क‍ि उन्‍होंने रविवार (27 अगस्‍त) को पटना की रैली में भाषण देते हुए लालू यादव को पि‍तातुल्‍य कह कर संबोधित किया.

लोग आए दी ट्वि‍टर पर उनका मजाक बना रहे हैं और पूछ रहे हैं कि लालू पितातुल्य हैं तो फिर पिता कौन हैं? हालांक‍ि, कुछ ट्वीट में ऐसा कहने वालों को एक तरह से चुनौती देते हुए यह भी कहा गया है क‍ि क‍िसी के पास लालू  के इस वक्‍तव्‍य का वीड‍ियो हो तो वह शेयर करे.

यह इतना प्रसिद्ध हो गया है कि लोगों ने तो तेजस्वी यादव से ये प्रश्न पूछने के लिए कार्टून भी बनाने शुरू कर दिए है.  आपकी जानकारी के लिए दें क‍ि रव‍िवार को राजद  ने पटना में वि‍पक्षी पार्ट‍ियों की रैली की थी, ज‍िसमें उन्‍होंने करीब आधे घंटे का भाषण द‍िया था.

बहुत बड़ा खुलासा! लालू नहीं है तेजस्वी के पिता, तेजस्वी ने पटना रैली में खुद स्वीकारा, पढ़िये पूरा सच
तेजस्वी के इस बयान के बाद लोगों ने कार्टून बनाने भी शुरू कर दिए हैं

इससे पहले दुनिया ने पहली बार ब‍िहार व‍िधानसभा में बतौर नेता प्रतिपक्ष उनका भाषण देखा-सुना था। तब उनके भाषण की काफी तारीफ हुई थी.  रव‍िवार के भाषण को लेकर उन्‍हें ट्राेेेल करते हुए जो ट्वीट क‍िए जा रहे हैं,

लोगों ने तो ये भी कहना शुरू कर दिया है की, जरूर इसमें भी कोई बड़ा घोटाला हुआ है. तभी तेजस्वी यादव ने लालू यादव को पिता मानने से इंकार करते हुए पिता तुल्य बता दिया. यही कारण है कि ट्विटर पर तेजस्वी यादव से तरह-तरह के मजाकिया सवाल किये जा रहे हैं.

दखिये लोगों के ट्वीट..

loading...