प्रियंका गाँधी को अपने दादा फिरोज खान का धर्म नहीं पता, उन्हें हिन्दू धर्म का क्या ज्ञान होगा – अनिल विज

21

नई दिल्ली : इन दिनों CAA के खिलाफ देश में जमकर बवाल मचा और विपक्षी पार्टियों ने भी मौका मिलते ही विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। इसी CAA को लेकर कांग्रेस ने भी मोर्चा खोला और हिन्दू धर्म को लेकर भी कई विवादित बयान दिए, ख़ासकर प्रियंका गाँधी ने । जिसके बाद हरियाणा सरकार में मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता अनिल विज ने कहा है कि ‘जिसे अपने दादा के धर्म के बारे में कुछ भी नहीं पता हो, उसे हिंदू धर्म के बारे में क्या पता होगा। इसीलिए जरुरी है कि उन्हें अपने दादा के धर्म के बारे में जानना चाहिए, साथ ही प्रियंका गांधी को हिंदू धर्म और भगवा के बारे में बोलने से पहले अपने धर्म और पूर्वजों के बारे में जानकारी प्राप्त करनी चाहिए।’

प्रियंका गाँधी को अपने दादा फिरोज खान का धर्म नहीं पता, उसे हिन्दू धर्म का क्या ज्ञान होगा - अनिल विज

आपको बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने राम-कृष्ण, शिवजी की बारात, हिंदुत्व और भगवा शब्द का इस्तेमाल कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा। प्रियंका ने कहा था कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने भगवा धारण किया है। यह भगवा उनका नहीं है। भगवा हिंदुस्तान की आध्यात्मिक संस्कृति और हिन्दू धर्म का प्रतीक है। प्रियंका गांधी द्वारा यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भगवा वस्त्र और हिंदुत्व पर टिप्पणी के बाद वरिष्ठ बीजेपी नेता अनिल विज ने यह बात कही है।

सोनिया गांधी के विदेशी मूल पर अनिल विज का करारा प्रहार..
बता दें कि सोनिया गांधी के विदेशी मूल के होने को लेकर हरियाणा सरकार में गृहमंत्री अनिल विज ने निशाना साधा था। विज ने सीएए के विरोध प्रदर्शन पर एक सवाल के जवाब में कहा था कि, ‘देश को जलाने के लिए सोनिया गांधी और ममता बनर्जी जैसे नेताओं ने यूनियन बना रखी है। इस यूनियन में उनेक साथ पाकिस्तान के पीएम प्रधानमंत्री इमरान खान भी शामिल हैं और यूनियन का काम देश के लोगों को आपस में लड़ाना है। इसी क्रम में उन्होंने आगे कहा था कि, ‘सोनिया गांधी ने खुद तो इटली से आकर भारत की नागरिकता ले ली, लेकिन अब दूसरों की नागरिकता को लेकर सवाल उठा रही हैं।’

उनकी मां को भी इस देश ने नागरिकता दी है..
दरअसल, साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि प्रियंका जिस तरह से आग लगाने का काम कर रही है वह बापू (महात्मा गांधी) की सोच नहीं है। उधार में यदि किसी से कुछ लिया जाता है तो उसे सूध समेत वापस भी किया जाता है। प्रियंका गांधी को अब गांधी सरनेम छोड़ देना चाहिए और अपना नाम प्रियंका फिरोज खान रखना चाहिए। इस देश ने उनकी विदेशी मां को भी नागरिकता दी है, प्रियंका गांधी को यह हमेशा याद रखना चाहिए।

loading...