साप्ताहिक राशिफल: 1 जनवरी से 7 जनवरी 2018

271

आचार्य मदन जी ,सर्वज्ञ शारदा पीठ, शांकर मठ, कश्मीर, द्वारा निर्मित आप का साप्ताहिक राशिफल.

साप्ताहिक राशिफल
1 जनवरी से 7 जनवरी 2018
विक्रमी संवत-2074, शक संवत- 1939, दिल्ली


मेष- चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ
इस सप्ताह आपको नौकरी में सफलता के विशेष अवसर प्राप्त हो रहे हैं. सप्ताह भर काफी भागदौड़ रहेगी. प्रारम्भ में घर का सुख कम रहेगा, मित्रों के साथ ज्यादा समय बीतेगा. घर के वृद्ध जन के स्वास्थ्य में गिरावट रहेगी. सप्ताह मध्य के बाद वाहन का ध्यान से उपयोग करें. अन्जान व्यक्ति से लिया सहयोग नुक्सान दायक साबित हो सकता है. किसी अन्य पर धन का खर्च सोच समझ के करें. मदिरा से परहेज रखें. पिता से मधुर सम्बन्ध बने रहेंगे. अचानक ही यात्रा के कार्यक्रम की बात होगी, किन्तु विशेष सुख प्राप्त नही होगा.
उपाय- गुरुवार को केले का दान करने और मंदिर में प्रसाद चढ़ाएं.

प्रेम- इस सप्ताह आप प्रेम सम्बंधों को निभाते हुए भी रोमांस का आनंद नहीं ले पाएंगे. सप्ताह के प्रारम्भ में ही साथी के साथ वैचारिक रूप से एक मत होने में कठिनाई अनुभव करेंगे. पुराने प्रेमी जनों के आनंद में ताज़गी बनी रहेगी. सप्ताहांत में जाकर साथी के साथ वैचारिक तालमेल ठीक हो पाएगा.
व्यापार- सप्ताह के प्रारम्भ में कारोबार से सम्बंधित किसी अतिरिक्त कार्य में उलझन रहेगी. रुका धन प्राप्त करने के लिए विशेष योजना पर काम होगा. सप्ताह के मध्य में पूर्व अनुबंधों के परिणाम से धन लाभ होगा. विदेश व राज्य से बाहर के सम्पर्क कार्य करेंगे. माल बिकेगा. पूर्व दिशा से शुभ संपर्क बनेंगे.
नित्य उपासना- मंगल तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम: .


वृष- ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो
इस सप्ताह आपके घर में कोई नया इलेक्ट्रॉनिक्स सामान आ सकता है, घर से दूर रहने वाले सदस्य से शुभ समाचार की प्राप्ति होगी. पारिवार में तालमेल उत्तम रहेगा. दक्षिण दिशा की आपकी यात्रा यादगार रहेगी. सप्ताह के मध्य में नौकरी करने वाले जातक वरिष्ठ अधिकारी के कृपा पात्र बनेगे. काम में मेहनत आपके बॉस से संबंधों को मजबूत करेगा. इसलिए डटकर मेहनत करें. सप्ताह के प्रारम्भ से ही विद्यार्थी अध्ययन से विचलित हो रहे है, अन्त में बेहतर भविष्य के लिए प्रयास करेंगे. वाहन का सुख मिलेगा.
उपाय- शनि मंदिर में जाकर काली दाल का दान करें.
प्रेम- सप्ताह भर पत्नी का प्रगाढ़ प्रेम मिलेगा. सप्ताह के अंत में अविवाहित जातकों को प्रेम जताने के नए अवसर प्राप्त होंगे. अनजान जगह में जाकर रोमांस की संभावना है. प्रेम की नयी कल्पनाओं को पंख लगेंगे. सम्बन्ध मजबूत होंगे.
व्यापार- आपका इस सप्ताह कारोबार शिखर पर रहेगा. जल्दबाजी और आवेश में किसी अवसर से लाभ लेने से चूक जाएंगे. लाभ की दृष्टि श्रेयसकर है. धन लाभ होगा. मध्य में समय काफी अनुकूल है. उधार लेने वालों से दूर रहे. माल की बिक्री में अप्रत्याशित वृद्धि होगी. पुरानी कारोबारी से सम्पर्क होगा. दक्षिण दिशा से शुभ लाभ होगा.
नित्य उपासना- शुक्र तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम:


मिथुन- का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह
सप्ताह के प्रारम्भ में कार्य के विषय अधिक चिंता रहेगी. आज लगातार संघर्ष रहेगा. घर और कार्य में विशेष तालमेल करने में कष्टपूर्ण स्थिति का सामना करना पड़ेगा. धार्मिक अनुष्ठान से मन को संतोष होगा. विरोधी शान्त हो जाएंगे. माता के स्वास्थ्य में सुधार नहीं हो पाएगा. ख्याल रखें. खुद के लिए समय कम मिल पाएगा. आप इस सप्ताह, कोर्ट में सफलता मिलेगी.
उपाय- बुधवार के दिन किसी गरीब मजदूर को आटा दें, और छोटे बच्चों को कोई भी खिलौना दें.
प्रेम- इस सप्ताह आप प्रेम को पाने के लिए बहुत ही विनम्र रहेंगे. विवाहित जातक जीवन साथी से भरपूर रोमांस करेंगे. शाम का समय प्रेम के लिए अनुकूल है. सप्ताह के उपरांत ही प्रेम का आनंद मिल सकता है. रिश्ते की डोर कहीं ठीक से बैठाने में सफल होते नजर आ रहे हैं. घर से दूर जाकर रोमांस हो सकता है.
व्यापार- सप्ताह की शुरुतात में कुछ आंशिक सफलता होगी. पिछले नुक्सान की भरपाई के लिए उचित प्रयास होंगे. आपकी सूझबूझ व निर्णय लेनी की उचित क्षमता से आप उस घाटे को पूरा करने में सफल होंगे. सरकारी तंत्र से समझौता होगा.
नित्य उपासना- राहु तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ भ्रां भ्रीं भ्रों स: राहवे नम:


कर्क- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो
सप्ताह के प्रारम्भ में आपके परिवार में मंगल कार्य होगा. नौकरी में आपकी स्थिति बेहतर रहेगी. पिता से सम्बन्ध मधुर रहेंगे. विद्यार्थी जन उच्च अध्ययन में रूचि लेंगे. सप्ताह के अंत तक वाहन सम्बन्धी किसी खर्च को लेकर परेशान रहेंगे. यदि आप वाहन लेने का विचार कर रहे हैं तो थोड़ा सा प्रतीक्षा करें. खुद के स्वास्थ्य में कुछ कमी भी महसूस हो सकती है. किसी अन्य के वाहन का सुख मिलेगा. आप परिवार के साथ बेहतर आनंद उठाएंगे. महिला जातक अपने आत्मविश्वास व्यवहार से पुरे सप्ताह ऑफिस में अपना दबदबा कायम रखेंगी.
उपाय- मंगलवार के दिन बंदरों को गुड़ व केले खिलाएं.
प्रेम- सप्ताह का आरंभ में व्यर्थ के खर्चों से आपकी प्रेम कहानी सरल नहीं रह पाएगी. सप्ताह के मध्य उपरांत आपके मन की अभिलाषा पूर्ण होगी. प्रेम में नाराजगी के स्तर पर बहुत आगे न जाए. साथी से किसी भी प्रकार से कड़वे वचनों का प्रयोग ना करें. अहंकार से दूर रहें. सप्ताह के अंत तक प्रेम के मामले में आंशिक सफलता प्राप्त करेंगे. नव युगल प्रेमी अपने साथी के विचित्र व्यवहार से कुछ संशय में आएँगे.
व्यापार- सप्ताह के मध्य भर कारोबार में चुनौती का सामना करेंगे, कुशल सलाहकार की सहायता से निर्णय करें. सांझेदार से विशेष सहयोग मिलेगा. जोखिम से नुक्सान हो सकता है. उत्तर दिशा से लाभ होगा. दीर्घ काल के लाभ के लिए भी प्रयास रहेगा. सप्ताह अंत तक संतोष धन प्राप्त होगा.
नित्य उपासना- चंद्र तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ श्रां श्रीं श्रौं स: चन्द्रमसे नम: .


सिंह- मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे
इस सप्ताह आप घर के किसी कार्यक्रम में आनंद लेंगे. सप्ताह के मध्य संपत्ति से सम्बंधित किसी निर्णय में दुविधा समाप्त होगी. नौकरी करने वाले जातक के कार्य में कुछ बदलाव के संकेत हैं. पिता के स्वास्थ्य में सहयोगी रहेंगे, संतान पक्ष से सुख में वृद्धि होगी. घर का सुख रहेगा. कुछ विशेष यात्रा का कार्यक्रम निश्चित होगा. विद्यार्थी जातक सप्ताह के प्रारंभ से मध्य तक अध्ययन के विषयों में कुछ कठिनाई महसूस करेंगे. वरिष्ठ नागरिकों के लिए अधिक चिंता की बात नहीं. सप्ताहांत मित्रों के साथ व्यतीत होगा.
उपाय- गाय की सेवा करें, शुक्रवार को गुड़ व रोटी खिलाएं. घर पर गौमूत्र का छिडकाव करें.
प्रेम- सप्ताह में आपके प्रेम प्रसंग में नए वादे के कारण आपको असहज स्थिति से जूझना पड़ेगा. भावनाओं पर अंकुश रखे. भावुकता में प्रेम सुखद परिणाम नहीं देता है, ख्याल रखें. शेष सप्ताह आपके प्रेम सम्बन्धों के लिए अनुकूल रहेगा. आप साथी के साथ पूरे मस्ती से समय बिता सकते हैं. सुगंध से आपको लाभ मिलेगा.
व्यापार- इस सप्ताह आप अपने देनदारी से मुक्त हो सकते हैं, कारोबार से सप्ताह अंत तक आंशिक मुनाफा होगा. लाभ के लिए नए अवसर प्राप्त होंगे. किसी भी विवाद से दूर रहे, अपने व्यवसाय पर ही ध्यान दें. सप्ताह भर शत्रु परास्त रहेंगे. किसी को उधार ना दें. कार्यक्षेत्र में भी आप बहुत सारे नए लोगों से इस सप्ताह मिल सकते हैं. सावधानी से व्यवहार करें.
नित्य उपासना- सूर्य तांत्रिक मंत्र- ॐ ह्रां ह्रीं हौं स: सूर्याय नम:


कन्या- ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो
इस सप्ताह अपने स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखें. माता व पिता का आदर करें. सप्ताह के मध्य में उतार-चढ़ाव में कुछ निराशा हो सकती है. हिम्मत बांधे रखे. पुराने कार्यों व आर्थिक पक्ष से सम्बंधित किये कार्यों से भी शुभ परिणाम प्राप्त होंगे. सप्ताह अंत में आपके कार्यों को सराहा जाएगा. सप्ताह विदेश संपर्क से निश्चित लाभ होगा. उच्चस्थ अधिकारीयों से विशेष गणित जमेगा. किसी भिखारी को कोई फल और गुड़ खाने को दें.
उपाय- सुबह शाम घर पर कर्पूर और लोबान जलाएं.  
प्रेम- इस सप्ताह आप प्रेम में आंशिक सफल रहेंगे, साथी के प्रति प्रेम सहानुभूति से आप व्यवहार करेंगे. आपके मन में नैतिक भाव बना रहेगा. सप्ताह के अंत में अपने मन के राज साथी के साथ सांझा करेंगे. भविष्य की योजानाओं से प्रेम संबंधों को नयी मजबूती की राह मिलेगी. यदि आप अभी नए प्रेमी युगल है तो इस सप्ताह कुछ विशेष समारोह में जा सकते हैं.
व्यापार- यह सप्ताह कारोबार में आपके लिए गुप्त नीतियों से धनार्जन करने का है, आपकी बौद्धिक कुशलता से आप एक कुशल कारोबारी के रूप में अपने लक्ष्य के अनुसार आय को अर्जित करने में सफल रहेंगे. सरकारी तंत्र से लाभ हो सकता है. दक्षिण दिशा से कुछ विशेष प्रबंध कार्य होगा, लाभ अवश्य ही होगा. सप्ताह के मध्य में लाभ कम किन्तु अपने उद्योग क्षेत्र में साख भी अर्जित करेंगे. काम में घोर व्यस्तता रहेगी. लाभ प्राप्त करने के लिए नीतियों में फेर बदल कर सकते हैं. आय के लिए ही इस सप्ताह ज्यादा लक्ष्य केन्द्रित करेंगे.
नित्य उपासना- बुध तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:


तुला- रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते
इस सप्ताह पिता-पुत्र में आपसी निर्णय में असमानता हो सकती है, घर के सुख में न्यूनता. उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे विद्यार्थी जनों का आज अध्ययन में विशेष सफलता मिलेगी. सप्ताह के अंत में महिलाओं को मानसिक कष्ट रहेगा. विश्राम पर ध्यान देना होगा. स्वास्थ्य की हानि हो सकती है. उच्च अधिकारीयों का तबादला होगा. इस सप्ताह आपके महत्वपूर्ण कार्य अधूरे रह सकते हैं, कार्य के प्रति सचेत रहे.
उपाय- नित्य शाम को मंदिर में कुछ सेवा कार्य अवश्य करें. किसी भिखारी को कोई फल और गुड़ खाने को दें.
प्रेम- इस सप्ताह आप पत्नी से कुछ परेशान रहेंगे. प्रयास करने से आपके पक्ष में अनुकूल स्थिति आ जाएगी. प्रेम सुख के लिए अपने वादे पर खरे उतरने का प्रयास भी करते रहे. प्रणय सम्बन्ध की मनोकामना पूर्ण होगी. सप्ताह अंत तक विशेष प्रयास से ही मधुर सम्बन्ध टिका रहेगा. अवसर देख कर साथी को उनकी पसंद का कोई उपहार भेंट करें.

व्यापार- इस सप्ताह आप सहज गति से ही आय अर्जित करेंगे. पिछले प्रयासों के परिणाम आज आपके लिए बेहद अनुकूल हो रहे हैं. सप्ताह अंत तक सांझेदारी में अच्छा कारोबार का मार्ग प्रशस्त होगा, सरकारी तंत्र से तालमेल बना रहेगा. पूर्व दिशा व महिला उद्यमी से सचेत रहे, धोखा हो सकता है. जल्दबाजी और आवेश में रहकर किसी के साथ कोई नया अनुबंध ना करें. फैक्ट्री व दूकान से सम्बंधित किसी नए निर्माण कार्य में व्यस्त रहेंगे. धन लाभ होगा.
नित्य उपासना- शुक्र तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम:


वृश्चिक- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू
इस सप्ताह जातक अपने मन की इच्छा पर नियन्त्रण रखे, लालच बुरी बला है. खुद की साज-सज्जा में व्यस्त रहेंगे. धन की चिंता से आज मुक्ति मिलनी वाली है. विद्यार्थी जन की विद्या अध्ययन में रूचि रहेगी. महिला जातकों के लिए या सप्ताह खास रहेगा. नयी खरीदारी के लिए पहल रहेगी. वरिष्ठ अधिकारीयों की कृपा बनने वाली है. किन्तु संतान की ओर से कुछ चिंता आ सकती है. संतान से खुल कर बातें करें. सप्ताह मध्य में आपके सामाजिक क्षेत्र में विशेष मान-सम्मान प्राप्त होगा. धार्मिक कार्यों में भागीदारी से सुकून महसूस करेंगे.
उपाय– शिव मंदिर में सोमवार व शुक्रवार को जाकर नारियल भेंट करें.
प्रेम- इस सप्ताह विवाहित जातक अपने पार्टनर से अच्छे अनुकूल सहयोग प्राप्त करेंगे. सप्ताह के अंत में गुप्त प्रेम करने वाले सुखद अनुभव नहीं करेंगे. कुछ उलझने परेशान करेगी. सोच समझ कर ही किसी बात के निष्कर्ष पर पहुंचें. कहीं भ्रमण के लिए जा सकते हैं. संबंधों के विषय में किसी से चर्चा ना करें. नुक्सान होगा.
व्यापार- इस सप्ताह जल्दबाजी में रहकर हल्का सा नुकसान कर सकते हैं, किन्तु आपके कारोबार को कुछ सुरक्षा अवश्य रहेगी. कार्य की व्यस्तता से आप निर्धारित आय को प्राप्त करने की दिशा में बढ़ेंगे. सरकारी तंत्र से प्रतिकूल परिस्थितियों होते हुए भी आप को समाधान प्राप्त होता रहेगा. लाभ की दृष्टि मध्य के उपरान्त ही आप आशावान रहेंगे. उधार लेने वालों से दूर रहे. पुराने संबंधों से लाभ होगा.
नित्य उपासना- मंगल तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:


धनु- ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे
इस सप्ताह आप घर के सुख व वाहन सुख से वंचित रहेंगे, आर्थिक स्थिति को ठीक करने के लिए कोई बड़ा निर्णय लेने में आत्मबल कुछ कम रहेगा. किसी बड़ी उम्र की महिला से कुछ अनबन हो सकती है. सप्ताह के मध्य में यात्रा का कार्यक्रम रद्द होगा. किसी पारिवारिक विवाद समाप्ति के अवसर हैं. नए मित्रों के साथ कुछ साँझा कार्यक्रम बनेगा. पिता के साथ वैचारिक तालमेल अच्छा रहेगा. नौकरी में आपकी स्थिति पुरे सप्ताह सुधार होगा.
महिला जातकों को अनुकूल परिणाम पाने के लिए कूटनीति से काम लेना होगा, सप्ताह के अंत तक आप अपनी इच्छापूर्ति करने में सफल रहेंगे. विद्यार्थी जनों के लिए अध्ययन सुचारू रूप से चलेगा.
उपाय– दूध, चीनी और घी मिलकर पीपल की जड़ पर डाले.
प्रेम- इस सप्ताह आप दाम्पत्य सुख में विशेष आकर्षण का अनुभव करेंगे. युवा प्रेमी जातक पुरानी किसी जगह पर जाकर रोमांस करेंगे. नये प्रेम संबंध में बंधना चाहते हैं, वे कुछ अवरोध के बाढ़ सफल हो जाएंगे. आप प्रपोज करने में पहल कर सकते हैं. सप्ताह के मध्य में अपने प्यार को पाने के लिए जूनून के भाव में रहेंगे. प्रेम संबंधों को मजबूत करने की दिशा में आप निकट के व्यक्ति की सहायता प्राप्त करेंगे.
व्यापार- इस सप्ताह आपके किसी सहयोगी के कारण अधिक व्यय से चिंतित रहेंगे. सांझेदार से कुछ नुक्सान होगा. आज भागदौड़ बहुत होगी. दूरगामी लाभ जी दृष्टि से निर्णय लेने में ही हित रहेगा. सप्ताह के में कार्यालय के उत्तर दिशा से विशेष लाभ होगा. किसी को उधार रकम ना दें.
नित्य उपासना- केतु तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ स्रां स्रीं स्रों स: केतवे नम:


मकर- भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी
इस सप्ताह आप मानसिक तनाव के शिकार हो सकते है, आपके मनोबल को तोड़ने के लिए विरोधी की जगह आपके अपने निकट का व्यक्ति हो सकते है. पत्नी के स्वास्थ्य का ख्याल रखें. संतान पक्ष से कुछ विशेष चिंता का विषय रहेगा. पिता के साथ वैचारिक तालमेल रखने में आपका हित है. ऑफिस में अनुकूल स्थिति रहेगी. सप्ताह के मध्य में आप किसी गुप्त योजना में सक्रिय रहेंगे. किन्तु असावधानी के कारण आपकी गुप्त योजनाएं फलीभूत नहीं हो पाएंगी. नौकरी करने वाले जातक आर्थिक समस्या के पक्ष को ठीक सुधारने में असक्षम अनुभव करेंगे. सप्ताह अंत तक स्वास्थ्य में सुधार होगा. जल्दी में किया कोई निर्णय आपको उलझा सकते हैं.
उपाय– हनुमान चालीसा का पाठ करते समय तीन अगरबत्ती एक साथ प्रज्ज्वलित करें.
प्रेम- इस सप्ताह आप अपने नव साथी के साथ मानसिक प्रेम में सफल रहेंगे. आपको साथी के अनुकूल विचारों से प्रसन्नता मिलेगी. परिवार का सहयोग भी उपलब्ध होगा. यदि विवाहित है तो सप्ताह के मध्य में आप किसी शीघ्र कहीं घुमने के कार्यक्रम को लेकर ठोस निर्णय पर पहुंचेगे. अविवाहित जातकों के लिए साथी के साथ विरह के दुखद योग से सप्ताह का अंत हो एकता है.
व्यापार- इस सप्ताह आप अपने दोहरे काम के बोझ से ग्रसित रहेंगे. मुनाफे के लिए आपको आज अपनी नीति में फेरबदल करना पड़ सकता है. किसी युवा कारोबारी व महिलाओं से लाभ होगा. नकद लेन देन में कुछ रुकावटें हो सकती हैं. सांझेदारी बिज़नेस में जो लोग है, वे भी इस सप्ताह धन लाभ के सकारात्मक परिणाम भोगेंगे.
नित्य उपासना- शनि तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनिश्चराय नम:


कुंभ- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा
इस सप्ताह आप बहुत ऊर्जा से काम नहीं कर पाएंगे. घर के सुख में कुछ कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है. नौकरी करने वाले जातक अपने अनुभव व परिवक्वता से परिस्थितियों का मुकाबला करेंगे. आप अधिक बोझ अनुभव करेंगे. वृद्ध जनों के लिए आज स्वास्थ्य में अनुकूलता रहेगी. उच्च शिक्षा से जुड़ने के संकते मिलेंगे. किसी यात्रा में अचानक बदलाव हो सकता है. मित्रों से पुरानी किसी बात को लेकर कुछ विवाद होगा. नौकरी बदलने पर विचार करने वाले जातक सप्ताह के मध्य तक अनिर्णय की स्थिति का सामना करेंगे.
उपाय- कच्चे दूध में गंगा जल मिला कर शिवलिंग पर चढ़ाएं और शुक्रवार को जटा वाला नारियल घर पर लाकर घर के उत्तर-पूर्व दिशा में रखकर शनिवार प्रातः मंदिर में भेंट चढ़ाएं.
प्रेम- रोमांस के लिए सप्ताह के मध्य में समय नहीं मिल पाएगा. पत्नी का सहयोग रहेगा, किन्तु विचार स्तर पर कुछ अनबन हो सकती है. धीरज से काम लेंगे तो शान्ति बनी रहेगी. सप्ताह के अंत में आप भावुकता में रहेंगे. नव युगल सप्ताह के प्रारम्भ में मधुर संबंधों को मजबूत करने में फल रहेंगे. भ्रमण के लिए रमणीक स्थल पर जाने का कार्यक्रम सप्ताह मध्य को यादगार बना देगा. परिवार का सहयोग भी उपलब्ध होगा.
व्यापार- कारोबार में कुछ नुकसान के साथ कुछ स्वास्थ्य सुख में कुछ कमी प्रतिष्ठा भी कम हो सकती है. धन को लेकर चिंता ग्रस्त रहेंगे. संपत्ति व प्रबंध व्यवस्था को लेकर कुछ गुणाभाग होगा. सप्ताह के मध्य में कुछ सुधार कार्य होगा. धन को लेकर कुछ प्रस्ताव पर विचार हो सकता है. कुल मिलाकर सप्ताह अंत तक कारोबार उतना अनुकूल नहीं है, जितना होना चाहिए.
नित्य उपासना- शनि तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनिश्चराय नम:


मीन- दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची
इस सप्ताह का प्रारम्भ आपके लिए मानसिक उलझनों से भरा हुआ है. बाहरी तौर पर सब ठीक रहेगा, किन्तु भीतर से आप एक द्वंद्व से जूझते रहेंगे. गुप्त शत्रुओं से भय रहेगा. पिता का आदर करें. संतान की शिक्षा में कुछ रुकावट हो सकती है. ससुराल पक्ष से विशेष समाचार से मन भावुक रहेगा. ऑफिस में प्रबंधक समिति की ओर से विशेष लाभ होगा. किन्तु अवसर का लाभ लेने की स्थिति में नहीं रहेंगे.इस सप्ताह आप अपने काम को लेकर बहुत ही आराम महसूस करेंगे. कार्यस्थान में कुछ बदलाव आ सकता है. नए व्यक्ति सावधान रहकर कार्य करें. सप्ताह मध्य के उपरान्त महिला जातक धार्मिक किसी विषय में गहराई से रूचि लेंगी. विद्यार्थी जन उच्च अध्ययन में रूचि लेंगे. वाहन सम्बन्धी किसी खर्च को लेकर परेशान रहेंगे.
उपाय- सवेरे उठकर खुले मैदान में पक्षियों को बाजरा डाले.
प्रेम- सप्ताह का आरंभ प्रेम संबंधों के नए सिरे से विचार करने में व्यतीत होगा. किन्तु मध्य तक युवा जातक व्यवहारिक अनुभव से काम लेंगे. सप्ताह के अंत में विवाहित जातक बाहर जाकर पुरानी यादें ताजा करने की योजना बना सकते हैं. खास पलों के साथ प्रणय सम्बन्ध का आनंद लेंगे.
व्यापार- सप्ताह प्रारंभ में काफी भागदौड़ होगी, लाभ के लिए प्रयास अच्छा रहेगा. आय के नए साधन उपलब्ध होंगे. लगातार प्रतिस्पर्धा मिलेगी किन्तु आय संतोषजनक रहेगी. किसी की अनावश्यक जिम्मेदारी ना लें. सप्ताह मध्य तक कुशलता और बुद्धि से खर्चों पर नियंत्रण कर लेंगे. सांझेदारी से लाभ होगा. सप्ताह अंत कुछ नयी जिम्मेदारी के साथ होगा. आर्थिक क्षेत्र में उन्नति के अच्छे योग हैं.
नित्य उपासना – बृहस्पति तांत्रिक मंत्र- ‘ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरवे नम:

ज्योतिष व वास्तु सम्बन्धी किसी भी समस्या के समाधान के लिए संपर्क सूत्र .
मिलने से पूर्व कॉल करे.
आचार्य मदन

(प्रवक्ता, सर्वज्ञ शारदा पीठ, शांकर मठ, कश्मीर)
श्रीराम आश्रम, सत्यम विहार, ऋषिकेश मार्ग, हरिद्वार.
09911438929

loading...