मुश्किलों को दूर करने के लिए करें इन सांपों की पूजा! मिलेगा दोषों से छुटकारा…

10

To overcome the difficulties, worship these snakes! Get rid of defects (29 दिसंबर, 2018) : हिन्दू मान्यता के अनुसार सनातन परंपरा में ‘सर्प देवता’ की पूजा श्रद्धा विश्वास के साथ की जाती है. जैसा कि हम जानते हैं कि सर्प ‘भगवान शिव’ के गले में हार और ‘भगवान विष्णु’ की शैय्या समेत बहुत से देवी-देवताओं से किसी न किसी तरह जुड़े हुए हैं. हम बात करते हैं नाग पूजा की तो हमारे यहां अनन्त, वासुकी, तक्षक कर्कोटक, महापद्म, नील, शंखपाल, कुलिक, कालिया नाग की पूजा बताई गई है.

मुश्किलों को दूर करने करने के लिए करें इन सांपों का पूजन! मिलेगा दोषों से छुटकारा...

प्राचीनकाल से होती आ रही है नाग पूजा 

भारत में नागों के सम्मान की बात की जाए तो यह देश के तमाम मंदिरों में नाग देवता की विशेष रूप से स्थापित प्रतिमा को देखकर दिखाई देता है.

नाग पूजा से दूर होता है वास्तु दोष

यदि हम किसी खाली भूमि पर माकन का निर्माण कराते हैं तो पहले भूमि की पूजा की जाती है. इस पूजा में विशेष ‘चांदी के नाग’ और ‘कलश’ का महत्त्व होता है. जमीन से जुड़े वास्तु दोष को दूर करने के लिए की जाने वाली इस पूजा के पीछे मान्यता है कि भूमि के नीचे पाताल लोक है. जिसके स्वामी ‘भगवान विष्णु’ के सेवक ‘भगवान शेषनाग’ हैं. उन्होंने अपने फन पर पृथ्वी को उठाकर रखा हुआ है. ऐसे में मकान का निर्माण करने से पूर्व नींव पूजन में चांदी के सांप की पूजा कर भगवान शेषनाग की कृपा पाने के लिए की जाती है. जिससे भगवान शेषनाग बनने वाले नए भवन को उसी प्रकार कर संभालकर कर रखें, जिस प्रकार पृथ्वी को संभालकर रखा है.

मुश्किलों को दूर करने करने के लिए करें इन सांपों का पूजन! मिलेगा दोषों से छुटकारा...

इस पूजा से दूर होता है कालसर्प दोष

मान्यता यह भी है कि अगर आपको बहुत परिश्रम करने के बाद भी अपने कार्य का उचित परिणाम नहीं मिल रहा, अगर आप दुसरो की सहायता करते हैं तो बदले में केवल बुराई ही मिलती है, मुसीबत के समय में अपने साथ छोड़ जाते हैं तो ये सब संकेत आपकी कुंडली में ‘कालसर्पदोष’ हो सकते हैं. आपको भी लगता है कि आपकी कुंडली में कालसर्पदोष है तो आप चांदी के ‘नाग-नागिन’ का जोड़ा बनवाकर विधि-विधान से उसका पूजन करें. पूजन के पश्चात् चांदी के इस नाग-नागिन के जोड़े को बहते जल में छोड़ दें. इस उपाय को करने से कालसर्पदोष का दुष्प्रभाव दूर हो जाता है. हर सोमवार को ‘भगवान शिव’ के मंदिर में जाकर कर नाग देवता जलाभिषेक करने से कालसर्प दोष दूर होता है.

यह भी पढ़े : 23 दिसंबर से शुरू हुआ पौष मास! करें ये उपाय, पूरी होगी मनोकामना…

मुश्किलों को दूर करने करने के लिए करें इन सांपों का पूजन! मिलेगा दोषों से छुटकारा...

अगर आप भी सर्प से डरते हैं तो करें नाग पूजन

अगर आपको को सांप से डर लगता है या फिर सपने में अक्सर सांप दिखाई देते हों, तो आपको विधि-विधान से सांप की पूजा करनी चाहिए. नागपंचमी के दिन विशेष रूप नाग की पूजा अवश्य करें. ऐसा करने से सांपों को लेकर आपका भय दूर हो जाएगा. साथ ही सांपों से जुड़े सपने भी दूर हो जायेंगे.

loading...