चीन द्वारा मानसरोवर यात्रा रद्द करने पर विश्व हिंदू परिषद का बड़ा ऐलान, अब चीनी वस्तुओं का होगा बहिष्कार

427

नई दिल्ली, 28 जून, 2017 – चीन ने भोले भक्तों को रोक कर हिंदुत्व पर आघात किया है। कैलाश मानसरोवर यात्रा को रोके जाने पर विश्व हिन्दू परिषद ने तीखी प्रतिक्रिया दी है।

चीन द्वारा मानसरोवर यात्रा रद्द करने पर विश्व हिंदू परिषद का बड़ा ऐलान, अब चीनी वस्तुओं का होगा बहिष्कार
चीन द्वारा मानसरोवर यात्रा रद्द करने पर विश्व हिंदू परिषद का बड़ा ऐलान, अब चीनी वस्तुओं का होगा बहिष्कार

उसका कहना है कि नाथू ला बोर्डर से जाने वाली कैलाश मानसरोवर यात्रा को चीन द्वारा रोके जाने से सभी स्तब्ध थे। अभी तक लगता था कि इसके पीछे शायद प्राकृतिक विपदा ही मुख्य कारण रही होगी।

परन्तु चीनी अधिकारियों द्वारा किए गए पत्र व्यवहार तथा जारी बयानों से अब यह स्पष्ट हो गया है कि इस महत्वपूर्ण यात्रा के रोकने का एक मात्र कारण क्षेत्रीय विस्तार की अमिट भूख व दादागिरी ही है।

पड़ोसी देश ने 50 तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को प्रवेश करने से मना कर दिया है, जो सिक्किम के नाथू ला के रास्ते कैलाश मानसरोवर की यात्रा करने वाले थे।

 इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए वीएचपी के संयुक्त महासचिव सुरेंद्र कुमार जैन ने कहा कि चीन की नजर तिब्बत पर है, जहां उसने अवैध कब्जा किया हुआ है।

उन्होंने केंद्र सरकार से जल्दी से जल्दी इस मुद्दे को पड़ोसी देश के साथ उठाने की अपील की है और लोगों से चीनी वस्तुओं को बहिष्कार करने का आग्रह किया है।

loading...