सौरव गांगुली की ‘दादागीरी’ के कुछ अजीबोग़रीब किस्से, ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने कहा घमंडी

308

भारतीय क्रिकेट टीम में दादा के नाम से मशहूर पूर्व भारतीय कप्तान ‘सौरव गांगुली’ का आज 45th बर्थडे है। वनडे क्रिकेट में दुनिया में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले 8वें नंबर के बैट्समैन गांगुली का करियर जितना चमकदार रहा है।

सौरव गांगुली की 'दादागीरी' के कुछ अजीबोग़रीब किस्से, ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने कहा घमंडी

उतनी ही ‘कॉन्ट्रोवर्सी’ से वे घिरे रहते थे। क्रिकेटर के तौर पर गांगुली को उनकी ‘दादागीरी’ के लिए भी जाना जाता है। हम आपको बता दे सौरव गांगुली की 11 कॉन्ट्रोवर्सी।

1991-92 में ऑस्ट्रेलिया टूर पर गई टीम इंडिया में सौरव गांगुली को डेब्यू करने का मौका मिला था। गांगुली के डेब्यू के साथ उनके करियर के पहले विवाद ने भी यहां जन्म ले लिया था।

मीडिया रिपोर्ट्स में ये दावा किया गया था कि बैंच्ड प्लेयर के तौर पर उन्होंने फील्ड पर मौजूद प्लेयर्स के लिए ड्रिंक्स ले जाने के लिए मना कर दिया था। उनके इस एटिट्यूड की वजह से उन्हें 4 साल तक टीम में जगह नहीं मिली थी।
हालांकि, सालों बाद गांगुली ने एक इंटरव्यू में कहा कि न जाने कहां से यह कहानी आ गई।

उन्होंने ड्रिंक्स ले जाने वाली बात पर सिर्फ इतना कहा कि हमारी ट्रिप पर ‘रनबीर सिंह’ नाम का मैनेजर था। उससे खराब व्यक्ति मैंने अपनी लाइफ में कभी नहीं देखा। हमारे लिए शर्म की बात थी कि उस जैसे मैनेजर को टीम के साथ रखा गया था।

 एक बार गांगुली ने, अगले पेज पर जारी है….->

loading...