एक और मुस्लिम ने की देश से गद्दारी! हकीकत जानकर उड़ जाएँगे आपके होश..

175

दिल्ली: आतंकियों के बड़ते गिह्रो को लेकर देश मे एक और मामला सामने आया है. एक कश्‍मीरी छात्र जो अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) से पीएचडी कर रहा था, अचानक नए साल पर गायब हो गया था. उसको लेकर अब चौका देने वाली खबर सामने आई है बताया जा रहा है की वो आतंकी बन गया है.

आतंकी ‘मन्‍नान वानी’  Image Source

फेसबुक और व्‍हॉट्सएप पर जारी मैसेज के अनुसार, कश्‍मीरी शोधार्थी 5 जनवरी को आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया है. सोशल नेटवर्किंग पर एक फोटो में उसे अंडर बैरल ग्रेनेड लांचर के साथ देखा गया है. हम आपको बता दे की इस कश्‍मीरी युवक का भाई जूनियर इंजीनियर है. एएमयू में पीएचडी कर रहे इस युवक की पहचान कुपवाड़ा (जम्‍मू-कश्‍मीर) निवासी ‘मन्‍नान वानी’ (पिता बशीर अहमद वानी) के तौर पर हुई है. इस युवक के परिजनों का कहना है कि मन्‍नान एएमयू में अप्‍लाइड जियोलॉजी विभाग से पीएचडी कर रहा था.

मन्‍नान के भाई मुबाशिर अहमद ने बताया की हम लोगों ने भी सोशल नेटवर्किंग साइट पर उसकी (मन्‍नान) तस्‍वीर देखी है. लेकिन इस बारे में हमे कुछ भी जानकारी नहीं है कि वह आतंकी संगठन में शामिल हुआ है या नहीं, हम 4 जनवरी से ही उससे संपर्क करने की कोशिश कर रहे है. लेकिन उससे सम्पर्क नहीं हो पा रहे हैं, उसका मोबाइल फोन भी लगातार स्विच ऑफ जा रहा है. हमे लग रहा था कि उसने किसी वजह से फोन बंद कर दिया होगा या फिर उसका फोन खो गया होगा. जब किसी भी तरह से उससे सम्पर्क नही हो रहा था, तब हम लोगों ने शनिवार (6 जनवरी) को पुलिस में उसकी गुमशुदा होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी.

मुबाशिर का कहना है कि मन्‍नान एक महीने पहले ही अलीगढ़ गया था. अलीगढ़ जाने के बाद भी मन्‍नान से लगातार बातचीत हो रही थी. ऐसे में हम सभी को लग रह था कि वह अलीगढ़ में ही है लेकिन अब उसके बारे में हमारे पास कोई जानकारी नहीं है. बता दे की कुपवाड़ा के एसएसपी शमशीर खान ने इस मामले पर बयान देने से इनकार कर दिया है.

आतंकी ‘मन्‍नान वानी’  Image Source

दरअसल, कुछ दिन पहले यूनिवर्सिटी में हुए छात्र संघ चुनाव में मन्‍नान बहुत क्रियात्मक दिख रहा था. छात्र राजनीति को लेकर उसने सोशल नेटवर्किंग साइट पर कई लेख भी लिखे थे. बता दे की इस मामले में अभी तक एएमयू की ओर से कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. लेकिन, विश्‍वविद्यालय की वेबसाइट पर मन्‍नन वानी को पीएचडी छात्र बताया गया है.

वेबसाइट के मुताबिक, मन्‍नान ‘स्‍ट्रक्‍चरल एंड जियो-मॉर्फोलॉजिकल स्‍टडी ऑफ लोलाब वैली, कश्‍मीर’ विषय पर सर्च कर रहा था. वर्ष 2016 में ‘वॉटर, एनवायरमेंट, इकोलोजी एंड सोसाइटी’ विषय पर एक अतंरराष्‍ट्रीय कांफ्रेंस में बेहतरीन रिपोर्ट देने के लिए मन्‍नान को सम्‍मानित भी किया गया था. कश्‍मीर यूनिवर्सिटी से जियोलॉजी एंड अर्थ साइंसेज में बेचलर की डिग्री लेने के बाद उसने एएमयू से मास्‍टर और एमफिल की पढ़ाई की थी.

 

Loading...