फारूक अब्दुल्ला ने दिया देशद्रोही बयान! कहा- तब तक नहीं बोलूँगा हिंदुस्तान जिंदाबाद जब तक कि…

310

श्रीनगर : पूर्व केंद्रीय मंत्री और ‘जम्मू कश्मीर’ के तीन बार मुख्यमंत्री रहे ‘डॉ. फारूक अब्दुल्ला’ ने 29 अक्टूबर को हिंदुस्तान के नारे को लेकर एक चौंकाने वाला बयान दिया है. जिसके बाद पूरे देश में अजीब सी खलबली मच गयी है. उन्होंने यह बयान उस समय दिया जब उनको एक बार फिर नेशनल कांफ्रेंस के निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया.

फारूक अब्दुल्ला ने दिया देशद्रोही बयान! कहा- तब तक नहीं बोलूँगा हिंदुस्तान जिंदाबाद जब तक कि...
फारूक अब्दुल्ला

दरअसल पहले अनुमान लगाया जा रहा था कि, फारूक अब्दुल्ला इस बार ‘उमर अब्दुल्ला’ को पार्टी की जिम्मेदारी दे देंगे. नेशनल कांफ्रेंस की तरफ से पार्टी सम्मलेन में बुलाये गये डॉ. फारूक अब्दुल्ला के निर्विरोध अध्यक्ष चुने जाने की घोषणा पार्टी महासचिव ‘अली मुहम्मद सागर’ ने किया है.

फारूक अब्दुल्ला ने दिया देशद्रोही बयान! कहा- तब तक नहीं बोलूँगा हिंदुस्तान जिंदाबाद जब तक कि...
अली मुहम्मद सागर

डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने अध्यक्ष चुने जाने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करते हुए बताया है कि, मैं अब अध्यक्ष पद को संभालना नहीं चाहता था. आज नहीं तो कल ‘उमर अब्दुल्ला’ को इस जिम्मेदारी को संभालना ही पड़ेगा. साथ ही फारूक ने यह भी बताया है कि, जब तक ‘जम्मू कश्मीर’ के लोगों के दिलों को जीतकर कर उनके दिल में जगह नहीं बना लेता तब तक वह हिंदुस्तान का नारा नहीं लगाऊंगा. जनता के दिलों को जीतना है तो हमें स्वायत्तता दे दो. फारूक ने केंद्र को अपना एजेंडा स्पष्ट करने के लिए कहा है.

फारूक अब्दुल्ला ने दिया देशद्रोही बयान! कहा- तब तक नहीं बोलूँगा हिंदुस्तान जिंदाबाद जब तक कि...
उमर अब्दुल्ला

उमर अब्दुल्ला ने इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बताया है कि, यहां बहुत सी बातें हो रही थीं. आज इस निर्णय से बहुत से लोग हैरत में आ गये हैं. अधिकतर लोगों के जहन में होगा कि, ऐसा कैसे हो गया है, परंतु यह सभी अंदर की बात है. साथ ही उमर ने यह भी बताया है कि, आज ‘नेशनल कांफ्रेंस’ को पहले से अधिक आज के समय में ‘डॉ. फारूक अब्दुल्ला’ की आवश्यकता है. इसके साथ-साथ कश्मीर की परेशानी के हल को लेकर आंतरिक और बाहरी मोर्चे पर बातचीत की प्रक्रिया पर जोर दिया.

loading...