दिल्ली उच्च न्यायालय ने सीबीआई निदेशक और डिप्टी एसपी को दिया ये जोरदार झटका…

72

Delhi High Court strongly shocks CBI director and deputy SP (नई दिल्ली) : अभी-अभी दिल्ली उच्च न्यायालय ने सीबीआई के विशेष डायरेक्टर ‘राकेश अस्थाना’ और डिप्टी एसपी ‘देवेंद्र कुमार’ को लेकर जोरदार झटका दिया है. जिसके बाद दोनों की और भी परेशानी बढ़ने वाली हैं. सूत्रों की माने तो न्यायालय ने याचिका खारिज कर दी है. सूत्रों की माने तो इस याचिका में दोनों ही अधिकारियों ने अपने खिलाफ दर्ज एफआईआर को रद्द करने की मांग की थी.

CBI निदेशक और डिप्टी एसपी को दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिया ये जोरदार झटका...
राकेश अस्थाना और देवेंद्र कुमार

न्यायधीश ‘नाजमी वजीरी’ ने ‘केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो’ (सीबीआई) के उपाधीक्षक देवेंद्र कुमार और कथित बिचौलिये ‘मनोज प्रसाद’ के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी रद्द करने से भी मना कर दिया.

यह भी पढ़े : रेलवे घोटाले को लेकर सीबीआई ने राबड़ी और तेजस्वी से की पूछताछ!

तीनों लोगों की याचिकाओं पर ‘दिल्ली उच्च न्यायालय’ ने अपना फैसला सुनाते हुए याचिका को ख़ारिज कर दिया है. सूत्रों की माने तो तीनों ने उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी रद्द करने की मांग की थी. अस्थाना पर भ्रष्टाचार रोकथाम कानून की धाराओं के तहत आपराधिक कदाचार, भ्रष्टाचार और आपराधिक साजिश के आरोप लगे हैं.

CBI निदेशक और डिप्टी एसपी को दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिया ये जोरदार झटका...
दिल्ली उच्च न्यायालय

ध्यान देने वाली बात यह है कि हैदराबाद के कारोबारी ‘सतीश बाबू सना’ ने एक मामले में खुद को राहत दिलाने के लिए कथित रूप से रिश्वत दी थी. सूत्रों की माने तो कारोबारी सना के कहने पर ही प्राथमिकी दर्ज हुई है. कारोबारी सना ने सीबीआई डायरेक्टर अस्थाना पर भ्रष्टाचार, रंगदारी और गंभीर कदाचार के आरोप लगाये थे.

loading...